बिहार के सियासी रण से साली -पत्नी दोनों OUT, अब खुला खेलेंगे तेजप्रताप यादव

बिहार के सियासी रण से साली -पत्नी दोनों OUT, अब खुला खेलेंगे तेजप्रताप यादव

PATNA :  बिहार विधानसभा चुनाव में इस बार तेजप्रताप यादव की पत्नी और साली दोनों के चुनाव मैदान में उतरने की बात कही जा रही थी लेकिन अब चुनाव में पत्नी और साली की कहानी समाप्त हो गई है.दरअसल बिहार विधानसभा चुनाव में टिकट की रेस में इस बार जिन दो चेहरों का नाम बड़ी तेजी से सामने आ रहा था उनमें से एक तेजप्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या राय और दूसरी उनकी साली करिश्मा थीं लेकिन दोनों ही फिलहाल टिकट की रेस से बाहर हो गई हैं. इसके बाद अब तेजप्रताप यादव घर वाले टेंशन से दूर अब अपने चुनाव पर फोकस कर पाएंगे.

तेजप्रताप यादव ने भले ही अपनी सीट बदल दी लेकिन ऐश्वर्या राय भी इस बार के चुनाव मैदान में नहीं आई हैं. दूसरी ओर तेजप्रताप यादव की ही साली करिश्मा  जिन्होंने लगभग 4 महीने पहले राष्ट्रीय जनता दल की सदस्यता ली थी को भी पार्टी ने इस बार विधानसभा का टिकट नहीं दिया है.


करिश्मा के दानापुर और परसा दो विधानसभा क्षेत्रों से चुनाव लड़ने की चर्चा थी लेकिन लालू प्रसाद यादव ने उन्हें बैरक में बैठाए रखा. इन दोनों जगहों से पार्टी ने कैंडिडेट का ऐलान कर दिया.  दानापुर सीट से जहां राजद ने इलाके के बाहुबली और डॉन कहे जाने वाले रीतलाल राय को अपना सिंबल दिया है तो वहीं परसा सीट राजद नेता छोटे लाल राय के खाते में गई है, ऐसे में करिश्मा के लिए दोनों रास्ते फिलहाल बंद हो गए हैं. करिश्मा ऐश्वर्या राय की बहन हैं जिन्होंने चुनाव लड़ने के उद्देश्य से ही पार्टी ज्वाइन की थी हालांकि उन्होंने कहा था कि पार्टी मुझे जो भी काम देगी उसे मैं बखूबी निभाऊंगी लेकिन फिलहाल उनके चुनाव लड़ने की संभावनाएं खत्म हो चुकी. 

तेजप्रताप यादव की लिए ये राहत की खबर है. चुनावी रण में घर वाले टेंशन और आरोपों से तेजप्रताप अक्सर बचना चाहते थे लिहाजा यही कारण था कि उन्होंंने महुआ सीट को छोड़कर हसनपुर से चुनाव लड़ने का फैसला किया.

Find Us on Facebook

Trending News