देश में कोरोना के बढ़ते ग्राफ के बीच बिहार सरकार सतर्क, दोबारा शुरू की गई कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग

देश में कोरोना के बढ़ते ग्राफ के बीच बिहार सरकार सतर्क, दोबारा शुरू की गई कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग

DESK: देश में कोरोनावायरस दोबारा रफ्तार पकड़ रहा है. हालांकि पिछले साल के मुकाबले इस बार मार्च में आंकड़े कम है, मगर अभी से सर्तकता नहीं बरती गई तो देश में दोबारा लॉकडाउन जैसे हालात बन जाएंगे. बिहार में तो कोरोना की रफ्तार थमी हुई सी है, मगर देश के कई राज्यों में यह ग्राफ बढ़ता जा रहा है. बिहार सरकार को चिंता करने की जरूरत इसलिए भी है क्योंकि होली का त्यौहार आने वाला है. होली में कई लोग बाहर से बिहार आते हैं, जिससे राज्य में कोरोना के मामले निश्चित तौर पर बढ़ जाएंगे. 

बिहार में सरकार होली के मद्देनजर सजग होती नजर आ रही है. कोरोना की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग और सिविल सर्जन की टीम की निगाह थ्री टी यानी ट्रेसिंग, टेस्टिंग और ट्रीटमेंट पर है. मुंबई-महाराष्ट्र, केरल, तमिलनाडू, कर्नाटक और पंजाब में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए यह कदम उठाया जा रहा है.

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव के निर्देश पर पटना में उपरोक्त राज्यों से आने वाले लोगों की विशेष कोरोना जांच होगी. ऐेसे में जो लोग इन राज्यों से आएंगे उनके लिए रेलवे स्टेशनों, एयरपोर्ट और बस स्टैंड पर जांच कैंप भी लगाए गए हैं. सिविल सर्जन ने बताया कि ग्रामीण इलाके में इन राज्यों से आनेवा ले लोगों की सूचना देने और जांच के लिए पंचायत प्रतिनिधियों की भी मदद ली जाएगी. बाहर से आए लोगों में से कोई संक्रमित व्यक्ति मिलता है तो होम आइसोलेशन में ही रखा जाएगा. इसके साथ साथ उनके इलाज का पूरा ध्यान रखा जाएगा.

Find Us on Facebook

Trending News