बिहार सरकार का नया फरमान, जानिए अब किस क्वॉरेंटाइन सेंटर में किस राज्य से आने वाले प्रवासी मजदूर रहेंगे.....

बिहार सरकार का नया फरमान, जानिए अब किस क्वॉरेंटाइन सेंटर में किस राज्य से आने वाले प्रवासी मजदूर रहेंगे.....

PATNA : बिहार सरकार ने प्रवासी मजदूरों को लेकर एक नया गाइडलाइन जारी किया है। आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने इस संबंध में सभी जिलों के डीएम और एसपी को पत्र लिखा है।

पत्र में कहा गया है कि लॉक डाउन की वजह से दूसरे राज्यों से वापस लौट रहे प्रवासी मजदूरों को उनके प्रखंड मुख्यालय के क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखा जा रहा है। वर्तमान में बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर बिहार आ रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के द्वारा विभिन्न राज्यों से आने वाले प्रवासी मजदूरों को 3 वर्गों में वर्गीकृत किया है। जिसमें प्रखंड, पंचायत एवं ग्राम कोरेण्टायन कैंप में रखने का परामर्श दिया गया है।

इसके तहत दिल्ली, मुंबई, पुणे, सूरत, अहमदाबाद और कोलकाता से आने वाले प्रवासी मजदूरों को प्रखंड स्तरीय कैंप में रखा जाएगा। वहीँ महाराष्ट्र, गुजरात, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु एवं हरियाणा से आने वाले मजदूरों को पंचायत स्तरीय कैंप में रखा जाएगा। साथ ही इन राज्यों से अलग बाकी के तमाम राज्यों से आने वाले मजदूरों को ग्राम स्तरीय कैंप में रखा जाएगा।

प्रखंड स्तरीय क्वॉरेंटाइन सेंटर में रहने वाले प्रवासी मजदूरों को 14 दिनों तक क्वॉरेंटाइन में रखा जाएगा। पंचायत स्तरीय क्वॉरेंटाइन सेंटर में महाराष्ट्र, गुजरात, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु एवं हरियाणा राज्य से आ रहे प्रवासी मजदूरों को 14 दिनों तक क्वॉरेंटाइन में रखा जाएगा।

पटना से विवेकानंद की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News