बिहार में कोरोना काल के बीच ऐसे मनेगा स्वतंत्रता दिवस, कोरोना वॉरियर्स होंगे मुख्य आकर्षण

बिहार में कोरोना काल के बीच ऐसे मनेगा स्वतंत्रता दिवस, कोरोना वॉरियर्स होंगे मुख्य आकर्षण

DESK : इस बार स्वतंत्रता दिवस समारोह पर भी कोरोना का असर दिखेगा. इतिहास में ऐसा पहली दफा होगा जब गांधी मैदान में स्वतंत्रता दिवस पूरी सादगी के साथ मनेगा. इस बार के समारोह में ना कोई झांकियां निकाली जाएंगी और ना ही कोई प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा. वहीं इस बार स्वतंत्रता दिवस में कोरोना वॉरियर्स ही मुख्य आकर्षण होंगे. 

कोरोना वॉरियर्स पर होगा फोकस 


इस बार समारोह के लिए कोरोना से जंग लड़ रहे बिहार को कोरोना से मुक्त कराने की कोशिश में जुटे कोरोना योद्धाओं और प्लाज्मा डोनरों को विशेष रूप से आमंत्रित किया जा रहा है. इसकी जानकारी देते हुए प्रमंडलीय आयुक्त संजय अग्रवाल ने  बताया कि कोरोना वारियर्स के बैठने के लिए गांधी मैदान में विशेष गैलरी की व्यवस्था रहेगी. आमंत्रित सभी वॉरियर्स को समारोह के बाद जिला प्रशासन की ओर से सम्मानित किया जाएगा और बिहार वासी गवाह बनेंगे. आयुक्त ने की तैयारियों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिया कि सादगी के साथ समारोह का आयोजन होना है इसको लेकर किसी प्रकार की गैदरिंग और भीड़ नहीं जुटेगी.

इन संस्थाओं को भेजा गया आमंत्रण 

प्रमंडलीय आयुक्त संजय अग्रवाल ने बताया कि कोरोना की लड़ाई में सहयोग कर रहे डॉक्टर, नर्स, एएनएम, पुलिस, निगमकर्मी, पदाधिकारी ,एम्बुलेंस चालक और योद्धा के रूप में कार्य करने वाले जो भी लोग होंगे उन्हें विशेष तौर से आमंत्रण पत्र भेजकर समारोह में भाग लेने की गुजारिश की जा रही है. पटना के जिन संस्थानों के योद्धाओं को आमंत्रित किया जा रहा है उनमें एनएमसीएच, पीएमसीएच, आइजीआइएमएस, आरएमआरआइ , एम्स और अन्य हॉस्पिटल के डॉक्टर, एएनएम, लैब टेक्नीशियन, पारा मेडिकल स्टाफ, पुलिसकर्मी, ट्रैफिक पुलिसकर्मी , सिविल ऑफिशियल, सफाई कर्मी, एंबुलेंस चालक, दवा दुकानदार सहित प्लाज्मा डोनर मौजूद रहेंगे.

सीमित संख्या में ही आमंत्रित होंगे अतिथि

कोरोना वारियर्स के अलावे अतिथि भी समारोह में सीमित संख्या में भाग लेंगे क्योंकि इस बार हर बार की तरह किसी भी विभाग की ओर से झांकियां नहीं निकाली जाएंगी और न ही कोई विभागीय उपलब्धि पर प्रदर्शनी लगाई जाएगी. आयुक्त संजय अग्रवाल ने कोरोना संक्रमण को लेकर जारी हुए गाइडलाइन को देखते हुए कहा कि समारोह में सीमित संख्या में ही आमंत्रित अतिथि मौजूद रहेंगे और उतनी ही क्षमता की बैठने की व्यवस्था रहेगी ताकि सोशल डिस्टेंसिग का पालन हर हाल में हो सके.


Find Us on Facebook

Trending News