बिहार के हाईस्कूलों में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स का अब हर महीने होगा मूल्यांकन, शिक्षा विभाग ने जारी किया आदेश 

बिहार के हाईस्कूलों में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स का अब हर महीने होगा मूल्यांकन, शिक्षा विभाग ने जारी किया आदेश 

पटना- बिहार के हाईस्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों का अब हर महीने मूल्याकंन परीक्षा ली जाएगी. मूल्यांकन में 40 फीसदी से कम अंक लाने वाले छात्र-छात्राओं को विशेष तौर पर पढ़ाई की व्यवस्था की जाएगीच. इस संबंध में बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के परियोजना निदेशक अरविन्द कुमार वर्मा ने गुरूवार को सूबे के सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को पत्र भेजा है.

नौवीं-दसवीं के छात्र-छात्राओं का होगा मूल्यांकन

परियोजना निदेशक ने कहा है कि माध्यमिक विद्धालयों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षण व्यवस्था हेतू हर महीने बच्चों का मूल्यांकन जरूरी है. निदेशक अरविंद कुमार वर्मा ने निर्देश दिया है कि नौवीं और दसवीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं का अगले महीने से मूल्यांकन शुरू करायी जाए. निदेशक ने सभी डीईओ से कहा है कि मासिक मूल्यांकन हेतू प्रश्न पत्र तैयार किया गया है. उस आधार पर अब हर महीने मूल्यांकन करायी जाए. इसके लिए परियोजना निदेशक ने पांच बिंदूओं पर बिहार के सभी डीईओ को जरूरी निर्देश दिए हैं.

40 फीसदी से कम अंक लाने वाले बच्चों को विशेष पढ़ाई

परियोजना निदेशक ने सभी डीईओ को भेजे पत्र में निर्देश दिया है कि 40 फीसदी से कम अंक लाने वाले छात्रों के लिए विशेष शिक्षण की व्यवस्था करायी जाए. साथ ही मूल्यांकन में A, B, C, D और E ग्रेड प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं की संख्या बिहार शिक्षा परियोजना को भेजें.

Find Us on Facebook

Trending News