बिग ब्रेकिंगः पटना के तत्कालीन DIG का आचरण संदिग्ध...! पुलिस मुख्यालय ने पूछा क्यों नहीं आप पर कार्रवाई की जाए ?

बिग ब्रेकिंगः पटना के तत्कालीन DIG का आचरण संदिग्ध...! पुलिस मुख्यालय ने पूछा क्यों नहीं आप पर कार्रवाई की जाए ?

PATNA: पटना के तत्कालीन डीआईजी राजेश कुमार पर गंभीर आरोपो के रेंज में आ गए हैं। डीआईजी साहब पर आरोप है कि पद पर रहते हुए नियमों को तार-तार किया है।इसी बावत पुलिस मुख्यालय ने डीआईजी राजेश कुमार के आचरण को संदिग्ध माना और शो-कॉज पूछा था। जानकारी के अनुसार उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों के संबंध में अबतक कोई जवाब नहीं दिया है।पुलिस मुख्यालय के सूत्रों ने बताया कि अभी तक डीआईजी ने स्पष्टीकरण पूछे जाने का कोई जवाब नहीं दिया है।

जानिए कितना गंभीर है मामला

बिहार पुलिस मुख्यालय ने जो पत्र निकाला है उसमें पटना के तत्कालीन और वर्तमन में बेगूसराय के डीआईजी राजेश कुमार पर गंभीर आरोप लगाए गए हैं। पुलिस मुख्यालय ने डीआईजी के आचरण को संदिग्ध बताया है।पुलिस मुख्यालय ने अपने आदेश में कहा है कि दंडादेश के बाद आप के द्वारा किए गए अपीलीय कार्रवाई संदेह के दायरे में है।आपने बिना किसी साक्ष्य की विवेचना एवं ठोस आधार के अपीलीय प्राधिकार के रूप में दिए गए दंडों को निरस्त कर दिया है।

बता दें कि पटना के जोनल आईजी ने डीआईजी द्वारा अपील में निबटाए गए विभागीय कार्यवाही की समीक्षा प्रतिवेदन मुख्यालय को उपलब्ध कराया था। उस प्रतिवेदन की जब वरिष्ठ पुलिस पदाधिकारियों के द्वारा मुख्यालय स्तर पर समीक्षा की गई तो यह खुलासा हुआ कि बिना पुख्ता आधार के 7 मामलों में दंडादेश को खत्म कर दिया गया या फिर कम कर दिया गया।इस काफी गंभीर मानते हुए पुलिस मुख्यालय ने स्पष्टीकरण पूछने के साथ हीं यह कहा कि क्यों ने आप पर विभागीय कार्रवाई कर दी जाए?

वर्तमान में बेगूसराय के डीआईजी के पद पर पदस्थापित राजेश कुमार से जब इस संबंध में उनका पक्ष लेने के लिए मोबाईल नंबर-9431822953 पर फोन किया गया ।लेकिन उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया ।लिहाजा उनका पक्ष नहीं लिखा जा सका है। 


Find Us on Facebook

Trending News