बिहार की बंद पड़ी 12 चीनी मिलों की जमीन अब बियाडा को सौंपी जाएगी, लगेंगे नए उद्योग

बिहार की बंद पड़ी 12 चीनी मिलों की जमीन अब बियाडा को सौंपी जाएगी, लगेंगे नए उद्योग

PATNA: बिहार की बंद पड़ी 12 चीनी मिलों की 2,442 एकड़ जमीन नए उद्योगों की स्थापना के लिए शीध्र हीं बियाडा को हस्तांतरित की जायेगी।बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने यह जानकारी दी है।पाटलिपुत्र औद्योगिक प्रक्षेत्र में ‘लघु उद्योग भारती‘ के तत्वावधान में आयोजित प्रदेश उद्यमी सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि राज्य निवेश प्रोत्साहन नीति-2016 के अन्तर्गत प्राप्त 14,885 करोड़ के 1,246 निवेश प्रस्तावों में से 1104 को सहमति प्रदान की जा चुकी है जिनमें 1419 करोड़ का निवेश कर 168 इकाइयां कार्यरत हैं तथा उनमें 4031 को रोजगार मिला हुआ है। 

मोदी ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा बंद पड़ी चीनी मिलों को चालू कराने के लिए 5 बार निविदा आमंत्रित किए जाने के बावजूद कोई निवेशक जब सामने नहीं आया तो बंद पड़ी चीनी मिलों की खाली जमीनों का अन्य उद्योगों के लिए आए नए निवेश प्रस्तावों के मद्देनजर बियाडा को देने का सरकार ने निर्णय लिया है। 

बियाडा के 4 औद्योगिक प्रांगणों में 1642 इकाइयां कार्यरत हैं और 369 स्थापित होने की प्रक्रिया में है। राज्य लघु एवं सूक्ष्म उद्योगों के तहत खाजा, राईस मिल, सीप बटन व कांसा-पीतल आदि के अलग-अलग जिलों में स्थापित 7 कलस्टरों में 28.83 करोड़ के निवेश प्रस्तावों में अब तक 15.61 करोड़ के निवेश हुए हैं। 

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति, जनजाति उद्यमी योजना के तहत 4,868 उद्यमियों को 340 करोड़ के ऋण की स्वीकृति दी गयी है। इसके अन्तर्गत उद्यमियों को 10 लाख तक की परियोजना के लिए अधिकतम 50 प्रतिशत यानी 5 लाख का अनुदान व 5 लाख ब्याज मुक्त ऋण देने का प्रावधान है।

Find Us on Facebook

Trending News