नियमित वेतनमान पर राज्य में हो शिक्षक की नियुक्ति, बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ ने की मुख्यमंत्री से मांग

नियमित वेतनमान पर राज्य में हो शिक्षक की नियुक्ति, बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ ने की मुख्यमंत्री से मांग

PATNA: बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष सह विधान पार्षद केदार नाथ पाण्डेय एवं महासचिव सह पूर्व सांसद शत्रुघ्न प्रसाद सिंह ने राज्य के मुख्यमंत्री से मांग की है कि राज्य सरकार द्वारा नियोजन के आधार पर शिक्षकों की नियुक्ति पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाई जाए और नियमित वेतनमान पर योग्य एवं कुशल शिक्षक की नियुक्ति की प्रक्रिया प्रारंभ की जाय।

उन्होंने यह मांग मुख्यमंत्री द्वारा स्थानीय मगध महिला कॉलेज के छात्रावास का शिलान्यास के अवसर पर अपने संबोधन में नई शिक्षा नीति पर दिये गए बयान जिसमें उन्होंने नई शिक्षा नीति के प्रारूप में संवैधानिक अस्पष्टता एवं व्यावहारिक रूप से शिक्षा नीति को लागू करने की दिशा निर्देश का अभाव बतलाया था । 

संघ के नेताओं ने कहा कि कस्तूरीरंगन की अध्यक्षता में गठित नई शिक्षा नीति के प्रारूप में शिक्षामित्र, पारा शिक्षक, संविदा शिक्षक अथवा कम वेतन पर नियोजन या नियुक्ति नहीं करने की स्पष्ट अनुशंसा है। साथ ही शिक्षकों के द्वारा गैर शैक्षणिक कार्य करने की सख्त मनाही भी है। शिक्षा नीति के इस प्रारूप में शिक्षक अध्याय के निष्कर्ष में उक्त आयोग की स्पष्ट अनुशंसा है कि जब तक शिक्षकों का आकर्षक, सम्मानजनक तथा गरिमापूर्ण वेतनमान नहीं होगा तब तक शिक्षा में गुणात्मक विकास असंभव है।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा नई शिक्षा नीति के प्रारुप पर मांगे गए सुझाव पर माध्यमिक शिक्षक संघ की स्पष्ट अनुशंसा है कि शिक्षा को पंचायती राज से मुक्त करने तथा 18 वर्ष के बच्चों को भारतीय संविधन के अनुच्छेद 21 (ए) के तहत मौलिक अधिकार प्रदान करने तथा शिक्षा अधिकार अधिनियम के अन्तर्गत माध्यमिक तथा उच्च माध्यमिक विद्यालयों को भी शामिल करने संबंधी प्रावधान तथा स्थान संवैधानिक संशोधन अनिवार्यत: करना चाहिए।

संघ के नेताओं ने कहा कि ये सभी अनुशंसाएं नई शिक्षा नीति में स्पष्ट है और मुख्यमंत्री से मांग करते हैं कि वे नई शिक्षा नीति के इन स्पष्ट व सकारात्मक अनुशंसाओं को लागू करने की जल्द घोषणा करें।

Find Us on Facebook

Trending News