महागठबंधन में विस सीटों को लेकर जंग शुरू, कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ने सीट बंटवारे का दिया नया फार्मूला

महागठबंधन में विस सीटों को लेकर जंग शुरू, कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ने सीट बंटवारे का दिया नया फार्मूला

PATNA: बिहार महागठबंधन में गांठ सुलझने की बजाए और उलझते जा रहा है.को-ऑडिनेशन कमेटी की मांग को लेकर गठबंधन के भीतर जंग छिड़ी हुई है।राजद छोड़ तमाम सहयोगी को-ऑडिनेशन कमेटी बनाने की मांग कर रहे हैं,लेकिन राजद सहयोगी दलों की मांग को खारिज कर रहा है।बिहार कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल के को-ऑडिनेशन कमेटी बन जाने की मांग को उनके ही दल के नेता ने हवा निकाल दी है।अब बिहार महागठबंधन में सीटों के बंटवारे को लेकर शह-मात का खेल शुरू हो गया है।बिहार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने सीट बंटवारे को लेकर एक नया फार्मूला दिया है.

जानिए नए फार्मूले को...

बिहार कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल की हवा निकालने के बाद बिहार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अनिल कुमार शर्मा ने विधान सभा सीटों के बंटवारे को लेकर नया फार्मूला दिया है।कांग्रेस नेता ने ट्वीट कर कहा कि राजद सीट के बंटवारे की चर्चा अब काँग्रेस नेतृत्व से दिल्ली में करेगा।चर्चा कहीं भी हो लेकिन अन्य घटक दलों को सीट देने के उपरांत बची हुई सीटों में राजद और काँग्रेस की हिस्सेदारी क्रमशः60 फीसदी और 40 फीसदी की होनी चाहिए.

2015 के चुनाव में राजद से कांग्रेस का रहा है बेहतर परफॉरमेंस 

कांग्रेस नेता अनिल कुमार शर्मा ने कहा कि 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव  में जीत दर्ज करने में राजद से ज्यादा बेहतर प्रदर्शन काँग्रेस पार्टी का रहा है। 2010 के चुनाव में राजद को 22 सीटें मिली थी और 2015 में  लगभग चार गुणा बढ़कर 81हुई जबकि काँग्रेस को 2010 में 4 सीटें मिली थी जो लगभग सात गुणा बढ़कर 27 हो गयी थी.

Find Us on Facebook

Trending News