बिहार में कोरोना से अब तक 18 डॉक्टरों की हुई मौत,जिंदगी की जंग हार गए डॉ. डी. एन पोद्दार....

बिहार में कोरोना से अब तक 18 डॉक्टरों की हुई मौत,जिंदगी की जंग हार गए डॉ. डी. एन पोद्दार....

PATNA: बिहार में कोरोना का कहर कमने का नाम नहीं ले रहा है। कोरोना से अब तक सूबे के 388 से अधिक लोगों की मौत हो गई है।इनमें से अबतक 18 डॉक्टरों की भी मौत हो गई है। बीती रात कटिहार के चिकित्सक डॉ. डीएन पोद्दार भी कोरोना की वजह से जिंदगी की जंग हार गए।इनके पहले मुजफ्फरपुर के युवा चिकित्सक डॉ. संजीव कुमार की भी एक दिन पहले कोरोना से मौत हो चुकी है।तीन दिन पहले एक और चिकित्सक डॉ. आरबी झा की भी कोरोना से मौत हो गई थी।

एक सिविल सर्जन की हो चुकी है मौत

इनके अलावे डॉ. मनोज कुमार वर्मा पटना,डॉ परमानंद कुमार पटना के अलावे समस्तीपुर के सिविल सर्जन समेत अब तक कुल 18 चिकित्सकों की मौत कोरोना संक्रमण की वजह हो चुकी है।

कटिहार के चिकित्सक डॉ. बीएन पोद्दार सदर अस्पताल के एकमात्र सर्जन 17 दिनों तक कोरोना से जंग लड़ने के बाद जंग हार गये. शुक्रवार की सुबह एम्स पटना में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई. करीब 25 दिन पूर्व ड्यूटी के दौरान कोरोना की चपेट में आ गए थे.22 जुलाई को स्थिति बिगड़ने के बाद उन्हें बेहतर इलाज के लिए पटना रेफर किया गया था. करीब 17 दिनों तक कोरोना से जंग लड़ते हुए शुक्रवार की सुबह उनकी मौत हो गयी. उनकी मौत की खबर यहां पहुंचते ही जिले के चिकित्सकों एवं आमलोगों में शोक की लहर दौड़ गयी.

सदर अस्पताल में सर्जन के रूप में लंबे समय से पदस्थापित थे. काफी मिलनसार वह अच्छे सर्जन के रूप में जाने जाते थे. स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार कटिहार मेडिकल कॉलेज अस्पताल के कोरोना वार्ड में इनकी ड्यूटी थी. ड्यूटी के दौरान ही मरीज के संपर्क में आने के बाद कोरोना की चपेट में आए. कोरोना के लक्षण पाए जाने के बाद उन्होंने अपना जांच कराया. जिसमें वे पॉजिटिव पाए गए. इसके बाद उन्होंने खुद को होम कोरेंटिन कर लिया. पांच दिन बाद उन्हें सांस लेने में तकलीफ हुई. जिसके बाद उन्हें सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया. वहां उन्हें ऑक्सीजन पर रखा गया था.

Find Us on Facebook

Trending News