बिहार के बाढ़ग्रस्त इलाकों के लिए राहत की खबर, कोसी समेत कई नदियों के जलस्तर में कमी की संभावना

बिहार के बाढ़ग्रस्त इलाकों के लिए राहत की खबर, कोसी समेत कई नदियों के जलस्तर में कमी की संभावना

पटनाः नेपाल में भारी बारिश की वजह उत्तर बिहार में बाढ़ के हालात हैं.कई जिलों में बाढ़ की वजह से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। सीतामढ़ी,शिवहर.मधुबनी के अलावे सीमांचल के कई जिलों में बाढ़ का कहर है।कोसी,गंडक,अधवारा समूह की नदियां,बागमती नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। हालांकि मंगलवार की सुबह तक कोसी समेत कई नदियों के जलस्तर में कमी की संभावना है। 

केंद्रीय जल आयोग की रिपोर्ट के अनुसार अब कई नदियों के जलस्तर में गिरावट देखी जा रही है। गंडक नदी का जलस्तर डुमरियाघाट में खतरे के निशान से 40 सेमी ऊपर था।मंगलवार की सुबह तक जलस्तर में 33 सेमी कमी की संभावना है।

बुढ़ी गंडक नदी का जलस्तर लालबगिया घाट में खतरे के निशान से 26 सेमी नीचे ता जिसे कल सुबह तक 40 सेमी तक बढ़ने की संभावना है।बागमति नदी का जलस्तर रून्नी सैदपुर में खतरे कनिशान से 391 सेमी ऊपर था लेकिन कल सुबह तक उसमें 79 सेमी कमी की संभावना है।कोसी नदी का जलस्तर बसुआ में खतरे के निशान से 126 ऊपर था जिसे मंगलवार की सुबह तक 27 सेमी कमी की संभावना है। 

गंडक नदी का जलस्तर सोमवार की सुबह  रेवाघाट पर खतरे के निशान से नीचे था उसे मंगलवालर की सुबह तक 15 सेनी वृद्धि होने की संभावना है।

घाघरा नदी का जलस्तर दरौली में खतरे के निशान से 74 सेमी नीचे था जिस मंगलवार की सुबह तक 23 सेमी वृद्धि होने की संभावना है।

Find Us on Facebook

Trending News