सुशासन नहीं 'जंगलराज' कहिए जनाब ! हद है...पिछले साल मारी 3 गोलियां इस साल काम ही तमाम कर दिया

सुशासन नहीं 'जंगलराज' कहिए जनाब ! हद है...पिछले साल मारी 3 गोलियां इस साल काम ही तमाम कर दिया

DESK: गोपालगंज में शासन का इकबाल खत्म हो गया है। सुबह में बेखौफ अपराधियों ने होमगार्ड जवान की गोली मार कर हत्या कर दी गई तो शाम में एक पत्रकार को गोली मारी गई। होमगार्ड जवान की हत्या में हुए खुलासे से यह बात प्रमाणित हो गई है कि वाकई में जंगलराज ने दस्तक दे दिया है। बदमाशों ने जिस होमगार्ड जवान की आज हत्या की है उस पर पिछले साल भी जानलेवा हमला हुआ था.तीन गोली लगने के बाद भी वह बच गया लेकिन इस बार अपराधियों ने जान ले ली। पिछली बार जिन लोगों ने हत्या की प्लानिंग रची थी वो अब भी जेल से बाहर है. इधर आज होमगार्ड जवान की दिनदहाड़े गोली मार कर हत्या कर दी गई ।सुशासन की पुलिस घटना के बाद मातमपूर्सी के लिए स्थल पर गई।

सुशासन राज नहीं जंगल राज कहिए जनाब 

55 साल के होमगार्ड सिपाही भोला सिंह की आज सुबह गोली मारकर हत्या कर दी गई। यह सनसनीखेज मामला गोपालगंज के एकडरमा गांव का है। मंगलवार को भोला सिंह बाइक से ड्यूटी पर जाने के लिए थावे निकले ही थे कि घर से महज 400 मीटर की दूरी पर दो बाइक से आए अपराधियों ने उन्हें घेर लिया। इसके बाद बैक टू बैक उनके शरीर पर गोलियां दाग दीं। मौके पर ही उनकी मौत हो गई। हत्या के बाद पूरे गांव में हड़कंप मच गया। मामले की जानकारी के बाद पुलिस टीम मौके पर पहुंची.

पिछले साल मारी गई थी तीन गोलियां फिर भी बच गए थे भोला
होमगार्ड जवान भोला सिंह जिनकी आज हत्या हुई थी उनके ऊपर पिछले साल भी जानलेवा हुआ था। अपराधियों ने उस वक्त भी उन्हें बैक टू बैक तीन गोलियां मारी थी, बावजूद इसके पिछले बार की घटना में उनकी जान बच गई थी। मगर, इस बार अपराधियों ने एक सोची-समझी साजिश के तहत अपना शिकार बनाया। 

दबंग संजय सिंह पर गंभीर आरोप
जानकारी के अनुसार इस हत्या कांड के पीछे गांव के ही रहने वाले संजय सिंह और उसके साथियों का नाम सामने आ रहा है। गोपालगंज पुलिस की मानें तो पिछले साल भी हुए जानलेवा हमले के पीछे इसका ही हाथ था। दरअसल, गांव में भोला सिंह की अपनी जमीन है। उस जमीन पर संजय सिंह की नजर लंबे वक्त से बनी हुई है। इलाके में संजय सिंह की छवि दबंगों वाली है। बताया जाता है कि पिछले साल की घटना के बाद से ही वो सेटिंग की बदौलत फरार चल रहा था,और पुलिस को खुला संरक्षण था। जानकारी के अनुसार तभी तो वो इतना समय तक बाहर रहा और फिर से साजिश रच कर हत्या करा दी। अब पुलिस हर बार की तरह इस बार भी इस मामले में जांच की खानापूर्ति में जुट गई है। 


Find Us on Facebook

Trending News