BIHAR NEWS: बिहार युवा कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष ने जहरीली शराब से मौत के मामले पर सरकार को घेरा

BIHAR NEWS: बिहार युवा कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष ने जहरीली शराब से मौत के मामले पर सरकार को घेरा

PATNA: प्रदेश भर में जहरीली शराब से बड़ी संख्या में लोगों की लगातार मौत हो रही है। शराब कारोबारियों के चपेट में आकर गरीब और युवाओं की मौत से घर तबाह हो रहे हैं। गरीबों की मौत से बेपरवाह सरकार में बैठे नेतागण और साशन-प्रसाशन पूरे बिहार में चल रहे काले कारोबार को संचालित कर के धन उगाही में लगे हैं। 

बिहार युवा कांग्रेस द्वारा आयोजित प्रेस वार्ता में प्रदेश उपाध्यक्ष मंजीत आनन्द साहू ने उक्त बातें कही। उन्होनें नवादा में जहरीली शराब से हुई मौत का खास तौर से जिक्र करते हुए कहा कि नवादा में 13 लोगों की जहरीली शराब से मौत हो गई है. बड़ी संख्या में लोग अस्पताल में भर्ती हैं। सरकार का चेहरा दागदार होने से बचाने के लिए स्थानीय प्रशासन का इस्तेमाल किया जा रहा। मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद के इशारे पर ज़हरीली शराब से हुई मौत को अन्य कारणों से हुई मौत बताया जा रहा है।

मंजीत आनन्द साहू ने कहा कि यह कितना दुर्भाग्यपूर्ण है की जहरीली शराब से हुई मौत को छिपाने के लिए बिना पोस्टमार्टम ही शवों का दाह संस्कार कराया गया। आख़िर जब पोस्टमार्टम हुआ ही नहीं तो किस प्रकार अधिकारी बयान दे रहे हैं कि मौत जहरीली शराब से नहीं ब्लकि अन्य कारणों से हुई। बिहार प्रदेश युवा कांग्रेस मांग करती है कि इन मौत की जांच के लिए न्यायिक जांच कमिटी का गठन किया जाए। 

उन्होनें शराबबन्दी कानून पर सवाल उठाते हुए कहा कि ये कैसा कानून है जिसको सरकार लागू नहीं कर पा रही है। गली-गली में शराब की अवैध बिक्री होने की सबसे बड़ी वजह यह है कि सरकार खुद शराब बिक्री के काले कारोबार में शामिल है। नवादा की घटना की न्यायिक जांच नहीं हुई तो प्रदेश युवा कांग्रेस राज्यव्यापी चरण बद्ध आंदोलन करने को मजबूर होगी।

Find Us on Facebook

Trending News