BIHAR NEWS: बाढ़ ने बिगाड़े पश्चिम चंपारण के हालात, कई पंचायतों का संपर्क कटा, आपात स्थिति में नहीं मिलेगी मदद, ऐसे कट रहा लोगों का जीवन

BIHAR NEWS: बाढ़ ने बिगाड़े पश्चिम चंपारण के हालात, कई पंचायतों का संपर्क कटा, आपात स्थिति में नहीं मिलेगी मदद, ऐसे कट रहा लोगों का जीवन

BETTIAH: पश्चिम चंपारण जिले में लगातार हो रही बारिशसे रामनगर मे मशान नदी, रामरेखा सहीत सभी नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। जलस्तर बढ़ने से चारों तरफ त्राहिमाममचा हुआ है। कई जगह मुख्य सड़क का संपर्क टूट गया है तो कहीं प्रखण्ड मुख्यालय से जिला मुख्यालय का संपर्क बाधित हो गया है। इनसब में सबसे ज्यादा रामनगर प्रखण्ड के कई पंचायत बगही, सखुआनी, मंचनगवा, नौरंगिया दोन सबसे ज्यादाप्रभावित हैं।

बाढ़ के चलते रामनगर को जोड़ने वालीमुख्य सड़क200 फीटतक पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हो गई है। इससे इनका मुख्यालय से सम्पर्क टूट गया है। हालात इसते खराब है कि यदि किसी को आपात मदद की जरूरत हो, तो वह पूरी नहीं की जा सकती है। अगर किसी की तबियत ख़राब हो जाए तो गांव से बाहर सवारी जाने का कोई रास्ता नहीं हैं। बुधवार को गांव की ही एक लड़की की तबीयत अचानक ख़राब हो गई। इसके बाद इसे ग्रामीणों द्वारा चारपाई पर लादकर लगभग एक किलोमीटर पैदल चलकर नदी पार करनी पड़ी। इस संबंध मे मनचंगावा पंचायत की सीमा देवी ने बताई की मेरी बेटी का तबीयत अचानक खराब हो गयी, तो खटिया पर लादकर रामनगर लाना पड़ा। यहां अभी कोई सवारी आने जाने को उपलब्ध नहीं है। वहीं भिखनाठोरी के पास पंडई नदी काफी विकराल रूप में आ गई हैं। ग्रामीण ऊंचे स्थानों पर शरण लेने को विवश हैं। लोग ऊंचे स्थानों पर शरण लेकर छप्पर के नीचे परिवार का भरण पोषण कर रहे हैं।

वहीं इस संबंध में मंचांगवा निवासी त्रिवेणी राम ने बताया की बाढ़ ने हम लोगों के घर में रखे सभी सामान को बहा ले गया। खाने का समान भी, सबकुछ बहा ले गया। किसी तरह से ऊंचे स्थान पर आकर जुगाड़ लगाकर कुछ खाना बना रहे है। वहीं जिला प्रशासन से अभी तक कुछ भी मदद नहीं मिली है। एक तरफ जहां सरकार लगातार बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा कर लोगों को राहत पहुंचाने का निर्देश दे रही हैं, वहीं प्रभावित लोगों तक अब भी कोई राहत नहीं पहुंची है।


Find Us on Facebook

Trending News