BIHAR NEWS: कोरोना-डेंगू पर बोले स्वास्थ्य मंत्री- ‘मधुबनी के संक्रमितों की हो रही जांच, अन्य मरीजों पर भी है नजर, सरकार है गंभीर’

BIHAR NEWS: कोरोना-डेंगू पर बोले स्वास्थ्य मंत्री- ‘मधुबनी के संक्रमितों की हो रही जांच, अन्य मरीजों पर भी है नजर, सरकार है गंभीर’

PATNA: मंगलवार को सहयोग कार्यक्रम में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय मौजूद रहे। उन्बोनें जनता की समस्याएं सुनी और अधिकारियों से बातचीत कर उनका निवारण कराया। कार्यक्रम के बाद मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने मधुबनी में बड़ी संख्या में मिले कोरोना संक्रमितों पर स्थिति स्पष्ट की। साथ ही राजद के प्रशिक्षण शिविर पर भी तंज कसा।

बाहरी हैं संक्रमित व्यक्ति, शाम तक स्पष्ट होगी स्थिति

जांच किए जाने पर ही सभी संक्रमित पकड़ में आए हैं। सभी का आरटी-पीसीआर जांच हो रहा है। आरटी-पीसीआर जांच में यदि सभी या कुछ लोग भी कोरोना पॉजिटिव पाए जाते हैं तो आगे के बाकी प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा। सभी व्यक्ति दिल्ली और मुंबई से आए हैं। उन्हें टीके की दोनों डोज लगी है या नहीं, यह तो पता नहीं चल सका है। अब बिहार में आने के बाद संक्रमण और उसका इलाज, दोनों होगा।

बीते सालों की अपेक्षा इस साल कम मिले डेंगू के मरीज

कोरोना के अलावा डेंगू के डाटा देखें तो प्रत्येक वर्ष अगस्त से अक्टूबर तक ही मरीज बढ़ते और दिखते हैं। राज्य भर के कुल केस में से 70 प्रतिशत केस पटना के होते हैं। पिछले सालों की तुलना में इस साल का डेटा देखें तो मरीज कम पाए गए हैं। पटना में भी इस बार मरीज की संख्या में कमी दर्ज की गई है। हमारी तरफ से सभी बड़े अस्पतालों में डेंगू की जांच और इलाज की पूरी व्यवस्था की गई है। 


राजद के प्रशिक्षण शिविर पर कह दी बड़ी बात

राजद के प्रशिक्षण शिविर को लेकर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि जरा पता कीजिए कि वहां किस चीज का प्रशिक्षण दिया जाता है। राजद जिन कार्यों के लिए जाना जाता है, उस हिसाब से मीडियाकर्मी राजद की कार्यशाला पर विशेष नजर बनाकर रखें। आप बेहतर जानते हैं राजद किस चीज के लिए प्रख्यात है, वहां वहीं काम होता है और वही सिखाया जाता है। इसके अलावा प्रशिक्षण देने वाले कौन हैं, उनका इतिहास क्या है, यह भी पता कर लीजिएगा। नजदीकी नजर रखने से ही जनता को सच्चाई पता चलेगी। जो विषय होंगे वो पार्टी की कार्य परंपरा के अनुसार ही होंगे। 

बच्चों को पढ़ाया जाना चाहिए सभ्यता, संस्कृति का पाठ

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा पाठ्यक्रम में रामायण गीता को शामिल करने पर स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने कहा कि, इतिहास के पन्नों में सब कुछ मौजूद है, जिसे लोगों को जानना चाहिये। इसे पढ़ा जाए तो अच्छा होगा। लोगों को इतिहास की जानकारी होना बेहद जरुरी है। हर घर में रामायण गीता महाभारत भारत रहती है। जो देश की इतिहास औऱ परंपरा है। हमारे इतिहास की जानकारी जितने लोगों को होगी उतना अच्छा होगा। जन्म लेने वाले को क्या मालूम यहां की संस्कृति कितनी पुरानी है। 

हालांकि मैं शिक्षा मंत्री नहीं हूं लेकिन मानता हूं कि देश के स्वर्णिम इतिहास की जानकारी सभी को होनी चाहिए। परंपरा, सभ्यता, संस्कृति की जानकारी होनी ही चाहिए। इसे सिलेबस में शामिल करने की बात तो शिक्षा मंत्री ही बेहतर बताएंगे।

Find Us on Facebook

Trending News