BIHAR NEWS: मानसून सत्र के सुचारू व सफल संचालन के लिए बैठक, विधानसभा अध्यक्ष ने कहा- सार्थक विमर्श से बढ़ेगी सदन की गरिमा

BIHAR NEWS: मानसून सत्र के सुचारू व सफल संचालन के लिए बैठक, विधानसभा अध्यक्ष ने कहा- सार्थक विमर्श से बढ़ेगी सदन की गरिमा

पटना: सदन सार्थक विमर्श के लिए है और चलते सत्र के दौरान जनहित के मामले पर सदन में जितना सार्थक विमर्श होगा, उससे सदन की गरिमा बढ़ेगी तथा इससे न केवल लोकतंत्र मजबूत होगा बल्कि बिहार के आम-अवाम के जनजीवन को सुगम और सरल बनाने में विधायिका और कार्यपालिका भी अपनी भूमिका को पूरी संवेदनशीलता, निष्ठा और ईमानदारी से निभा सकेंगी। यह बातें बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने गुरुवार को 26 जुलाई से शुरू हो रहे बिहार विधानमंडल के मानसून सत्र के सुचारू एवं सफल संचालन के लिए बिहार सरकार के वरीय पदाधिकारियों के साथ विधान सभा में आयोजित बैठक के दौरान कही। उन्होंने कहा कि सदन में सदस्यों द्वारा पूछे गये प्रश्नों तथा नियमानुसार जनहित में उठाये गये मामलों का चलते सत्र के दौरान शत-प्रतिशत उत्तर प्राप्त होने से विधानमंडल के संचालन में खर्च होने वाली लोकनिधि का भी बेहतरीन उपयोग हो सकेगा। प्रश्नों के उत्तर ससमय प्राप्त हों, इसके लिए कार्यपालिका को और भी मुस्तैदी से अपनी जिम्मेवारी निर्वह्न करना होगा। 

विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि बजट सत्र के दौरान जिन प्रश्नों के उत्तर प्राप्त नहीं हो सके हैं, उनके लिए विभागों से समन्वय स्थापित कर इनका उत्तर प्राप्त किया जाय और इसके लिए जिम्मेदार पदाधिकारियों को चिन्हित कर इसके सुसंगत कारणों को पता किया जाय। आगामी सत्रों में सभी प्रश्नों के शत-प्रतिशत उत्तर प्राप्त हों, इसके लिए उन्होंने मुख्य सचिव, बिहार सरकार को निर्देशित किया। उन्होंने विधायक आवासन योजना के तहत निर्माणाधीन वैसे 62 फ्लैट्स जिसमें बहुत ही कम काम रहे गये थे, उसको यथाशीघ्र पूर्ण कराने तथा विधायकों की आवास मरम्मति कराने के लिए भवन निर्माण विभाग को भी आदेश दिया। बिहार विधान सभा के प्रवेश द्वारों पर वॉच टावर तथा मुख्य प्रवेश द्वार की तरफ स्वागत कक्ष निर्माण की समीक्षा भी की गयी। 

बैठक के दौरान मुख्य सचिव को आवास मरम्मति तथा जिन प्रश्नों के उत्तर प्राप्त नहीं हुए, उसकी सूची उपलब्घ कराने पर उनके द्वारा अपने स्तर से इसका अनुश्रवण करने की बात कही गयी। विधायकों तथा पूर्व विधायकों को देय चिकित्सा सुविधा तथा प्रतिपूर्ति को जल्द ही कैशलेस करने का आश्वासन मुख्य सचिव तथा अपर मुख्य सचिव, स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिया गया। बैठक के दौरान विस अध्यक्ष ने बताया कि बिहार विधान सभा के 172 सदस्यों द्वारा कोरोना टीका ले लिया गया है। वैसे 21 सदस्य जो बिहार सरकार में मंत्री हैं, उन्होंने भी कोरोना का टीका ले लिया है। 22 सदस्यों द्वारा स्वास्थ्य संबंधी कारणों से अभी टीका नहीं लिया गया है । 25 विधायकों के बारे में सूचना अप्राप्त है। बिहार विधान सभा में 10 बार टीकाकरण किया गया है। जिसमें कुल 1394 लोगों का टीकाकरण कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि वैसे प्रेस प्रतिनिधियों को जिन्हें बिहार विधान सभा द्वारा पास निर्गत किया गया है, उन्हें कोरोना टीकाकरण का सर्टिफिकेट साथ में रखना होगा। 

बैठक में बिहार विधान परिषद् के कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह, बिहार विधान सभा के उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी, संसदीय कार्य मंत्री विजय कुमार चौधरी सहित बिहार सरकार के मुख्य सचिव त्रिपुरारि शरण, डीजीपी एसके सिंघल, अपर मुख्य सचिव, गृह विभाग, चैतन्य प्रसाद, अपर मुख्य सचिव, स्वास्थ्य विभाग प्रत्यय अमृत सहित कई विभागों के पदाधिकारी एवं डीएम पटना चंद्रशेखर सिंह तथा एसएसपी पटना उपेन्द्र शर्मा सहित बिहार विधानसभा के प्रचारी सचिव भूदेव राय उपस्थित थे।


Find Us on Facebook

Trending News