शराबबंदी पर हो रही आलोचना से सीएम की तरह गुस्से में रहती है पुलिस, जबरन किसी को भी शराबी मानकर करने लग रही है पिटाई, यह है उदाहरण

शराबबंदी पर हो रही आलोचना से सीएम की तरह गुस्से में रहती है पुलिस, जबरन किसी को भी शराबी मानकर करने लग रही है पिटाई, यह है उदाहरण

BEGUSARAI. : बेगूसराय में एक बार फिर पुलिस का क्रूर चेहरा देखने को मिला जहां शराब के नाम पर एक युवक को लाठी डंडा से बेहरामी से पिटाई कर दी। इस पिटाई से युवक गंभीर रूप से घायल हो गया जिसका इलाज बेगूसराय के सदर अस्पताल में चल रहा है जहां स्थिति नाजुक बनी हुई है। घटना रतनपुर थाना क्षेत्र के पटेल चौक की है। घायल युवक की पहचान पटेल चौक निवासी दिलीप पासवान का पुत्र करण कुमार के रूप में की गई है।

बताया जाता है कि करण कुमार अपने चार दोस्त के साथ घर के पास बैठा हुआ था। उसी दौरान रतनपुर थाने की टाइगर मोबाइल पुलिस आया सभी लड़का वहां से भागने लगा लेकिन करण कुमार उसी जगह खड़ा रह गया। उसे पूछने लगा कि तुम क्या कर रहे हो उन्होंने कहा कि मेरा घर है इसलिए यहां पर खड़ा है। इतना ही से आगबबूला होकर टाइगर मोबाइल पुलिस ने उसे जबरन वहीं पर पीटना शुरू कर दिया फिर वहां से उठाकर दूसरे स्थान ले गया। शराब के नाम पर उस युवक को लाठी डंडे से बेरहमी से पिटाई कर दिया युवक रहम की भीख मांगते रहा लेकिन पुलिस वाला एक नहीं सुनी लाठी डंडे से बेरहमी से पीटता रहा। आप तस्वीरों में देख सकते हैं किस तरह से युवक के शरीर पर पिटाई का निशान है। पुलिसवाला का पिटाई से मन भर गया तो युवक को जिस जगह से उठाया उसी जगह लाकर छोड़ दिया। पीड़ित युवक का आरोप यह है कि जबरन मुझसे कहा जा रहा था तुम शराब पिए हो और शराब कहां कहां बिकता है यह बताओ नहीं तो मारते मारते मार देंगे। वह लड़का बोलते रहा कि मुझे कोई पता नहीं है कौन शराब बेचता है। जबरन टाइगर मोबाइल पुलिस के द्वारा युवक को लगातार लाठी डंडे से पीटता रहा। 

इसकी सूचना पीड़ित युवक के परिजनों को मिली परिजनों के द्वारा युवक को काफी खोजबीन किया लेकिन नहीं मिला फिर पुलिस वाला जिस जगह से युवक को उठाया था उसी जगह मिला। परिजनों ने उस जगह से युवक को उठाकर आनन-फानन में इलाज के लिए बेगूसराय के सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां स्थिति गंभीर बनी हुई है। पीड़ित युवक की मां का आरोप यह है कि मेरा बेटा घर के पीछे मैं बैठा था। उस जगह से जबरन उठाकर ले गया और उसके साथ लाठी डंडे से बेरहमी से पिटाई कर दिया और कहने लगा तुम शराब पिए हो और बताओ सर आप कहां बिकता है अगर नहीं बताओगे तो मरते मरते मार देंगे। मेरा बेटा बोलते रहा कि हम अगर शराब पिए हैं तो मेरा मेडिकल चेकअप करा दीजिए। फिर भी मेरे बेटे को टाइगर मोबाइल पुलिस के द्वारा बेरहमी से पिटाई कर दिया और उसी जगह लाकर छोड़ दिया। बरहाल जो भी हो जिस तरीके से शराब के नाम पर एक युवक को उठाकर ले गया और बेरहमी से प पुलिस के द्वारा पिटाई की गई इससे एक बार फिर पुलिस पर सवाल खड़ा होते नजर आ रहा है।

Find Us on Facebook

Trending News