BIHAR NEWS : पति की रिहाई के लिए पटना पहुंची रंजीत रंजन, नीतीश सरकार के खिलाफ खोल सकती हैं मोर्चा

BIHAR NEWS : पति की रिहाई के लिए पटना पहुंची रंजीत रंजन, नीतीश सरकार के खिलाफ खोल सकती हैं मोर्चा

PATNA : जाप सुप्रीमो पप्पू यादव की गिरफ्तारी को 48 घंटे से अधिक का समय गुजर चुका है। 32 साल पुराने अपहरण मामले में सुपौल भेजे गए पप्पू यादव को अब उनकी पत्नी रंजीत रंजन का साथ मिल गया है। गुरुवार दोपहर वह पटना पहुंची। जहां एयरपोर्ट पर ही उन्होंने साफ कर दिया कि वह इस गिरफ्तारी को लेकर नीतीश सरकार को सीधी चुनौती दे सकती हैं। रंजीत रंजन ने कहा कि हम सब बैठकर आगे की रणनीति पर विचार करेंगे। इससे पहले रंजीत रंजन ने यह साफ कर दिया था कि कोरोना मरीजों के लिए जो काम पप्पू यादव कर रहे थे, वह अनवरत मिलती रहेगी। 

पटना पहुंची ने साफ किया कि पप्पू यादव जी पर हुक्मरानों के जुल्मोसितम के बावजूद लोगों को मदद अनवरत मिलती रहेगी। कोरोना के दौर में मानवता को बचाना प्रथम लक्ष्य! प्रेस से संवाद कर सरकार को आज बेनकाब करूंगी।


 पप्पू यादव ने लिखा, नीतीश जी आपको हाय लगेगी

इधर बीरपुर जेल में बंद पप्पू यादव ने अपने ट्विट के जरिए एक बार फिर से सीएम नीतीश कुमार पर हमला किया है। उन्होंने लिखा है कि तीन दिनों से भूख हड़ताल पर हूं।  कोरोना पीड़ितों,उनके परिजनों के लिए खाना देने को बाधित करने वाला सरकारी आदेश वापस नहीं लिया जाता। मैं भूखा रहूंगा। भले मेरी जान रहे या जाए! @NitishKumar  जी आपको इस अमानवीय फैसले की हाय लगेगी। आप जिस BJP के लिए कुर्बान हो रहे हैं,वह भी साथ न होगी। 

बता दें पप्पू यादव के लिए आधी रात को मधेपुरा कोर्ट में सुनवाई की गई थी, जहां उनकी जमानत को खारिज करते हुए 14 दिन के रिमांड पर भेज दिया गया। वहीं हाईकोर्ट ने भी उनकी जमानत याचिका पर तत्काल सुनवाई से इनकार कर दिया है।


Find Us on Facebook

Trending News