रिक्शा चालक करता था पीएमसीएच से नवजात बच्चों की चोरी, इस बार अपने पांच माह के भतीजे का ही कर दिया, सच्चाई जानकर पुलिस भी हैरान

रिक्शा चालक करता था पीएमसीएच से नवजात बच्चों की चोरी, इस बार अपने पांच माह के भतीजे का ही कर दिया, सच्चाई जानकर पुलिस भी हैरान

PATNA : वह उस मासूम बच्चे का फूफा लगता था, उसके ही घर में किराएदार था। कोई शक भी नहीं कर सकता था कि रिश्ते की आड़ में पैसों के लिए बच्चे को ही बेच देगा। वह भी कुछ हजार रुपए के लिए। पीरबहोर थाना में ऐसा ही एक मामला सामने आया है। जहां पांच माह के दुधमुंहे बच्चे की चोरी कर उसे बेच दिया गया। जब इस पूरी घटना की सच्चाई सामने आई तो न सिर्फ परिवार के लोग हैरान रह गए, बल्कि पुलिस भी चकित हो गई।

क्या है पूरी घटना

दरअसल, पीरबहोर थाना के भावर्पोखर इलाके से बीते 17 मार्च को पांच माह के बच्चे की चोरी की घटना सामने आई थी। इस दौरान बच्चे की नानी को शक हुआ तो उन्होंने अपने मकान में रहनेवाले शाकिर से पूछताछ शुरू की। शुरू में तो उसने बच्चे की चोरी की बात से इनकार किया, लेकिन कड़ाई से पूछे जाने पर कबूल कर लिया कि उसने ही बच्चे की चोरी की है और हज भवन के पास जामुन गली में रहने वाले शमशाद से 10 हजार में अयान की बेचे जाने की बात स्वीकार की। शमशाद बाइक मैकेनिक का काम करता है। इस दौरान यह बात भी सामने आई कि शाकिर बच्चे का रिश्ते में फूफा लगता है और पेशे से रिक्शा चलाने का काम करता है।

पीएमसीएच से भी किया था बच्चे की चोरी

रिक्शा चलाकर अपना गुजारा करनेवाले शाकिर की यह पहली वारदात नहीं थी। पूछताछ में शाकिर ने बताया कि pmch से भी एक बच्चा चोरी कर पहले शमशाद को बेच चुका है।  सवाल ये उठता है कि pmch से बच्चा चोरी होने के बाबजूद पुलिस को अपराधी की भनक तक नही लगी। वही हाल के दिनों में गायब अयान का अबतक की सुराग नही मिल सका है। अब मामला सामने आने के बाद पुलिस इस मामले की तफतीश में जुट गई है।

Find Us on Facebook

Trending News