Bihar Crime : गिरफ्त में आया रुपेश के हत्यारे ऋतुराज का साथी, पुलिस ने उगलवाए हत्या से जुड़े सारे राज, जानिए क्या कहा

Bihar Crime : गिरफ्त में आया रुपेश के हत्यारे ऋतुराज का साथी, पुलिस ने उगलवाए हत्या से जुड़े सारे राज, जानिए क्या कहा

पटना.(patna) (Bihar Crime News) ढाई माह पहले बिहार में इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह की हत्या की घटना ने प्रदेश की सियासत और पुलिस महकमे में भूचाल ला दिया था। जिसमें पुलिस ने हत्यारे ऋतुराज को गिरफ्तार कर लिया था, वहीं उसके बाकी साथी फरार थे जिनकी पुलिस लगभग डेढ़ महीने से तलाश कर रही थी। अब घटना के 72 दिन बाद ऋतुराज के दूसरे साथी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने उसके पास से एक पिस्टल और गोलियां भी बरामद की गई हैं जिसे एफएसएल जांच में भेजने की बात कही गई है.

पटना एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार अपराधी सौरभ कुमार उर्फ पवन उर्फ खरहा है जो रूपेश हत्याकांड के मास्टरमाइंड ऋतुराज का दोस्त है. पटना पुलिस ने इस अपराधी को कुम्हरार इलाके से गिरफ्तार किया है जहां पर यह आईओसीएल कॉलोनी में किराए के एक मकान में रहता था. पटना पुलिस ने दावा किया है कि जिस तरीके से ऋतुराज अपने परिवार से अलग रहता था, ठीक उसी तरह सौरभ भी जीवन व्यतीत करता था. इस बात की जानकारी उनके परिजनों को नहीं है कि वह कहां और किसके साथ रहता है।

हत्या के कारणों का किया  खुलासा

बताया गया कि वह हत्याकांड को अंजाम देने के बाद दिल्ली भी भाग गया था. एसएसपी की मानें तो गिरफ्तारी से बचने के लिए सौरभ व्हाट्सएप कॉल पर ही बात करता था. उन्होंने कहा कि सौरभ ने भी ऋतुराज की तरह ही घटना की पूरी जानकारी पटना पुलिस को दी कि किस तरह रोडवेज के बाद इस घटना को अंजाम दिया गया है. एसएसपी ने बताया कि जरूरत पड़ने पर स्वभाव और ऋतुराज दोनों को रिमांड पर लिया जाएगा ताकि इनको आमने-सामने बिठाकर क्रॉस इंटेरोगेशन किया जा सके.

पहले से कई मामले दर्ज

एसएसपी के मुताबिक इस पर कई अपराधिक मामले दर्ज हैं. पटना के नौबतपुर और बिहटा में आर्म्स एक्ट के दो मामले 2018 में इसके ऊपर दर्ज किए गए थे. यह एक बार जेल भी जा चुका है. एसएसपी ने बताया कि हत्याकांड को अंजाम देने के बाद यह अपराधी पटना कंकड़बाग इलाके में छिप कर रहा था लेकिन ऋतुराज की गिरफ्तारी के बाद यह घबरा गया और फरार हो गया था. हत्याकांड के बाद सौरभ कंकड़बाग में अपनी बहन के यहां फिर बड़हिया फिर, अपने घर लखीसराय भी गया था.



Find Us on Facebook

Trending News