तेजस्वी-तेज प्रताप पर लगा हत्या की कोशिश का आरोप, इस थाने में दर्ज हुआ मामला

तेजस्वी-तेज प्रताप पर लगा हत्या की कोशिश का आरोप, इस थाने में दर्ज हुआ मामला

Patna. : बेरोजगारी महंगाई व भ्रष्टाचार के खिलाफ 23 मार्च को राष्ट्रीय जनता दल की ओर से किए गए प्रदर्शन और पथराव मामले में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और उनके बड़े भाई तेजप्रताप सहित 21 लोगों के खिलाफ पुलिस ने धारा 307 के तहत मामला दर्ज किया है। f.i.r. दानापुर के अधिकारी प्रतिमा गुप्ता के बयान पर कोतवाली थाने में दर्ज कराई गई है।

एफआईआर में तेजस्वी तेज समेत जो 22 लोग आरोपी बनाए गए हैं इनमें कई वर्तमान व पूर्व विधायक भी शामिल हैं। जानकारी के मुताबिक धारा 307 गैर जमानती है थाने से जमानत का नियम नहीं है। एफआईआर में जिन लोगों पर मामला दर्ज किया गया है उनमें तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव, जगदानंद सिंह, श्याम रजक, निराला यादव, अब्दुल बारी सिद्धकी,निर्भय आंबेडकर, आजाद गांधी, महताब आलम, प्रेम गुप्ता, भाई अरुण, रीतलाल यादव, राजेंद्र यादव, रमई राम, शक्ति यादव, अर्चना यादव, रितु, डॉ गौतम कृष्ण, क्रांति सिंह, कारी सुहैब नामजद हैं। इसके अलावा 800 अन्य लोगों पर भी केस दर्ज किया गया है। जिन 22 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है उन पर धारा 144, 149, 341, 342, 323, 128, 333, 427, 337, 338, 353 और 304 के अलाव 51/57 डिजास्टर मैनेजमेंट 2005 के तहत भी मामला दर्ज किया गया है
बता दें कि 23 मार्च को तेजस्वी यादव के नेतृत्व में राजद ने विधानसभा का घेराव करने की कोशिश की थी, जिसमें डाक बंगला चौराहा के पास पार्टी कार्यकर्ताओं ने भारी हंगामा करते हुए पत्थरबाजी और लाठियों से पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया था, इस दौरान डाक बंगला चौराहा में कई जगह तोड़फोड़ भी की गई थी।

Find Us on Facebook

Trending News