BIHAR : पंचायत भवन निर्माण में हो रहा घटिया सामग्री का इस्तेमाल, ग्रामीणों ने प्रशासन और ठेकेदार के काम पर उठाए सवाल

BIHAR : पंचायत भवन निर्माण में हो रहा घटिया सामग्री का इस्तेमाल, ग्रामीणों ने प्रशासन और ठेकेदार के काम पर उठाए सवाल

SUPOUL :  राज्य सरकार जहां सूबे में पंचायतीराज व्यवस्था के तहत राज्य के संबंधित जिलों के पंचायतों को सशक्त बनाने की दिशा में पंचायत स्तर पर पंचायत सरकार भवन का निर्माण करने की कवायद में लगी है ताकि पंचायत के प्रतिनिधि व्यवस्थित हो पंचायती राज व्यवस्था के तहत अपने पंचायतों में सरकार से मिल रही विभिन्न लाभान्मुखी योजनाओं का सतत क्रियान्वयन कर सके। वहीं दूसरी ओर पंचायत को सशक्त बनाने की दिशा में जिले के त्रिवेणीगंज अनुमंडल क्षेत्र गोनाहा पंचायत के वार्ड नम्बर 5 में बन रहा पंचायत सरकार भवन मुखिया विकास कुमार साह उर्फ सुबोध साह की मिली भगत से लूट का पर्याय बनकर रह गया है।

 इस पंचायत सरकार भवन के गुणवता की बात करें तो उक्त भवन निर्माण मुखिया विकास कुमार साह द्वारा सरकारी माप दंडों को ताक पर रखकर निर्माण कार्य में निम्न स्तर के ईंट, घटिया सफेद बालु व सीमेंट व गुणवत्ताविहीन सामग्री का इस्तेमाल किया जा रहा है व योजना का बोर्ड भी नहीं लगाया है। ग्रामीणों ने घटिया सामग्रियां से हो रहे निर्माण का जम कर विरोध किया गया है। ग्रामीणों ने बताया कि बगल के बड़ी नहर से उजला बालू ला कर इसमें लगाया जा रहा है ग्रामीणों ने बताया कि जब इस भवन का निर्माण गोनाहा पंचायत के वार्ड नम्बर 05 में बनाया जा रहा तो हम ग्रामीणों के मन में एक उम्मीद जगी थी कि इस भवन के बनते ही हमारे पंचायत का सर्वागीण विकास का सपना अब साकार हो पाएगा लेकिन जब इस अति महत्वाकाक्षी पंचायत सरकार भवन निर्माण में मुखिया द्वारा ही जब सेंधमारी कर सरकार के इस योजना में लूट मचाई जा रही है तो ऐसे में स्वच्छ, विकसित व आदर्श पंचायत निर्माण का सपना-सपना ही बनकर रह जाएगा। 

ग्रामीणों ने बताया कि आज इस भवन निर्माण कार्य का जहां कई महीनों बीतने को है,  तो दूसरी तरफ इस विभाग के किसी भी पदाधिकारियों ने भवन निर्माण में लगाए जा रहे सामग्री की गुणवता की जाच भी करना मुनासिब नहीं समझा। खैर जो भी हो इस पंचायत के ग्रामीण के नजर में यह भवन के निर्माण मुखिया जी के मोटी रकम के उगाही का जरिया बनकर रह गया। ग्रामीणों ने बन रहे घटिया मेटियरल से भवन की गुणवत्ता की उच्च अधिकारी से जांच करने की अपील की है।

 मुखिया विकास कुमार साह से बन रहे भवन में घटिया मेटियरल लगाये जाने की बात पूछी गई तो, मुखिया ने विरोध करने वाले पर ही भड़क गये और कहा बिरोध करनें वाले से पुर्व मे लड़ाई झगड़ा हुआ था, वह लोग खाने पीने वाला लोग है, इसी लिए विरोध करते हैं, मेटियरल को जमीन पर रखने से घटिया लग रहा है, भवन में कोई घटिया मेटियरल नही लग रहा है मुखिया जी आरोप कोई नयी बात नही है, यह बात तो बहुत पुरानी बात है, जब कोई धटिया मेटियरल लगाये जाने को लेकर विरोध करते हैं, बचने की उपाय एक ही सहारा , पुर्व से लड़ाई हो ,या रंगदारी हो या धमकी देने की बात हो , चाहें कोई भी पदाधिकारी हो या प्रतिनिधि, या ठेकेदार , मुखिया जी भुल गये अच्छे कामों का कोई विरोध नहीं करता है, जब गलत रहेगा तभी आपका कामों की विरोध करेगा ,

Find Us on Facebook

Trending News