नियोजित कर्मियों को प्रताड़ित करने वाले अधिकारियों की अब खैर नहीं, मानवाधिकार हनन करने वाले अफसरों पर कार्रवाई का आदेश

नियोजित कर्मियों को प्रताड़ित करने वाले अधिकारियों की अब खैर नहीं, मानवाधिकार हनन करने वाले अफसरों पर कार्रवाई का आदेश

PATNA: सरकारी अधिकारी ने अगर नियोजित कर्मियों को प्रताड़ित किया तो अब उनकी खैर नहीं है। बिहार सरकार ने वैसे मानवाधिकार हनन करने वाले अफसरों पर कार्रवाई का आदेश दिया है।इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग ने सभी विभागों के विभागाध्यक्ष, प्रमंडलीय आयुक्त और डीएम को पत्र लिखा है।

सामान्य प्रशासन विभाग ने मानवाधिकार आयोग के समक्ष दायर एक परिवाद पत्र का हवाला देते हुए कहा है कि राज्य सरकार के विभिन्न कार्यालयों में बड़े पैमाने पर संविदा के आधार पर कर्मचारी नियुक्त हैं। इन कर्मचारियों से क्षमता से अधिक कार्य कराए जाते हैं। निर्धारित कार्यावधि के अलावे भी इन्हें छुट्टी के दिन भी कार्य करने को बाध्य किया जाता है। कार्य नहीं करने पर इन्हें भुगतान रोक देने और कार्यमुक्त कर देने की बात कही जाती है। ऐसे में संविदा कर्मी विवश होकर शोषण को बाध्य होते हैं। 

सामान्य प्रशासन विभाग ने कहा है कि ऐसे मामलों की जांच कर दोषी अधिकारियों पर तुरंत कार्रवाई की जाए। इसके साथ ही संविदा कर्मचारियों को अनुमान्य छुट्टी और साप्ताहिक अवकाश उपभोग करने दिया जाए। इस संबंध में आदेश जारी कर दिया गया है।


Find Us on Facebook

Trending News