बुजुर्ग बिग्रेड के सहारे भारत बंद कराने उतरी बिहार की सबसे बड़ी पार्टी, तेजस्वी-तेज की अनुपस्थिति पर सभी नेताओं ने साध ली चुप्पी

बुजुर्ग बिग्रेड के सहारे भारत बंद कराने उतरी बिहार की सबसे बड़ी पार्टी, तेजस्वी-तेज की अनुपस्थिति पर सभी नेताओं ने साध ली चुप्पी

PATNA : तीनों कृषि कानून को वापस लेने और किसानों के समर्थन में आज बुलाई गई भारत बंद का असर राजधानी पटना में भी नजर आया। विपक्ष की सभी पार्टियां इस दौरान पटना के अलग अलग जगहों पर प्रदर्शन करने के लिए सड़क पर उतरी। जिसमें राजद सहित कांग्रेस और महागठबंधन में शामिल सभी दलों के नेता बंद के समर्थन में सड़क पर उतरे। 

राज्य के सबसे बड़ी पार्टी के नेता गायब

बंद के समर्थन में राजद के पूरी टीम सड़क पर उतर गई। इनमें पार्टी की बुजुर्ग ब्रिगेड में शामिल प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, अब्दूल बारी सिद्दिकी सहित श्याम रजक और अन्य नेता भी नजर आए। लेकिन इन सबके बीच पार्टी कार्यकर्ता अपने नेता तेजस्वी यादव और तेज प्रताप को खोजते रहे, लेकिन वह कहीं नजर नहीं आए। यहां तक कि दोनों भाइयों को लेकर पार्टी के किसी वरिष्ठ नेता को कोई जानकारी थी वह कहां हैं। अब्दूल बारी सिद्दिकी ने तेजस्वी का बचाव करने की कोशिश करते हुए बताया कि वह भी कहीं पर प्रदर्शन कर रहे होंगे।

केंद्र पर बरसे सिद्दिकी

इस दौरान अब्दूल बारी सिद्दिकी ने केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर अपनी भड़ास निकाली। उन्होने कहा कि दस माह से किसान अपनी मांगों को लेकर सड़क पर बैठे हुए हैं। ठंडी, गर्मी, बरसात बर्दाश्त कर रहे हैं, लेकिन अमीरों की यह सरकार उनकी मांग को मानना तो दूर की बात है, उनका हाल लेना भी जरुरी नहीं समझती है। राजद नेता ने कहा इस आंदोलन में हजारों किसान अपनी जान गंवा चुके हैं, लेकिन सरकार को उनकी कोई फिक्र नहीं है। उन्होंने कहा कि किसानों और गरीबों का देश है, लेकिन मौजूदा केंद्र सरकार सिर्फ गिनती के कुछ उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए काम कर रही है। लेकिन अब स्थिति बदल गई है, किसान समझ चुका है कि उनके लिए क्या बेहतर है और कौन उनके हित के लिए काम कर रहा है।


Find Us on Facebook

Trending News