बिहार के ऊर्जा मंत्री ने माना प्रदेश में बिजली संकट, बोले- मोदी सरकार से बातचीत हो रही है, एक-दो दिनों में हो जाएगा समाधान

बिहार के ऊर्जा मंत्री ने माना प्रदेश में बिजली संकट, बोले- मोदी सरकार से बातचीत हो रही है, एक-दो दिनों में हो जाएगा समाधान

पटना. बिहार में लगातार भीषण गर्मी पड़ रही है। वहीं भीषण गर्मी के बीच बिजली की भी समस्याएं भी सामने आ रही है। पूरे बिहार में बिजली की खफत 6 हजार मेगावाट है, वहीं आपूर्ति करीब 5 हजार मेगवाट ही है। करीब हजार मेगवाट की कमी है। इस कमी को बिहार के ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र यादव ने भी माना है। उन्होंने कहा कि देश के साथ-साथ बिहार में भी बिजाली की कमी है। इसको लेकर केंद्र सरकार से बतचीत की जा रही है। एक-दो दिन में इसका समाधान हो जाएगा।

लगभग एक हजार मेगावाट बिजली की कमी

जेडीयू की ओर से आयोजित कार्यक्रम में मंत्री बिजेंद्र यादव ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि पूरे देश में बिजली को लेकर प्रॉब्लम चल रही है। बिहार में भी बिजली को लेकर प्रॉब्लम है, लेकिन उसके समाधान को लेकर सरकार लगातार काम कर रही है, ताकि सब कुछ ठीक-ठाक हो जाए। उन्होंने बताया कि नबीनगर का एक यूनिट आज से चालू हो जाएगा, उससे 500 मेगावाट के आसपास बिजली मिल जाएगी। बिहार में अभी लगभग 1000 मेगा वाट बिजली की कमी है, जिसके आपूर्ति लिए भारत सरकार से हम लोगों की बात चल रही है। संभवतः एक-दो दिन में सारी कमी पूरा हो जाएगी।

न्योता भेजाने में कोई राजनीति नहीं 

वहीं, जेडीयू द्वारा आयोजित इफ्तार पार्टी में लालू यादव समेत आरजेडी के नेताओं को न्योता भेजने के संबंध में मंत्री ने कहा कि इफ्तार पार्टी में मुख्यमंत्री के आदेश पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, तेज प्रताप, लालू यादव और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी को आमंत्रित किया गया है. उन्होंने हमें आमंत्रण दिया था, तो क्या हम अपनी इफ्तार पार्टी में उनको निमंत्रण नहीं देंगे। मंत्री ने कहा कि पार्टी में आना और नहीं आना यह उनका दायित्व है. लेकिन न्योता तो हम देंगे ही। सभी पार्टी के लोगों को निमंत्रण दिया गया है। हर चीज का राजनीति मतलब नहीं निकाला जा सकता है।


Find Us on Facebook

Trending News