बिहार के गांव अब बनेंगे क्लाइमेट स्मार्ट, जानिए किन जिलों के किसानों को मिलेगा लाभ

बिहार के गांव अब बनेंगे क्लाइमेट स्मार्ट, जानिए किन जिलों के किसानों को मिलेगा लाभ

PATNA : बिहार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने बुधवार को कहा कि जलवायु परिवर्तन को देखते हुए गांवों को क्लाइमेट स्मार्ट बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इससे बेहतर खेती होगी और किसानों को लाभ होगा। 

प्रेम कुमार ने कहा कि चार कॉरिडोर भागुलपुर मुंगेर स्टेट हाइवे, पूणिया कटिहार स्टेट हाइवे, दरभंगा समस्तीपुर स्टेट हावे और पटना नालंदा स्टेट हाइवे का चयन इसके लिए किया गया है। इन 8 जिलों के 100 गांवों का चयन इस परियोजना के लिए कराया जा रहा है। इसके क्रियान्वयन पर 23 करोड़ 6 लाख 62 हजार रुपए खर्च होंगे।

कृषि मंत्री ने कहा कि 8 जिलों में पटना, नालंदा, मुंगेर, भागलपुर, कटिहार, पूर्णियाँ, दरभंगा एवं समस्तीपुर में कुल 100 गांवों के 10 हजार किसानों लाभ दिलाने का लक्ष्य है। 

प्रेम कुमार ने कहा कि इस परियोजना के तहत गेहूं, धान, मक्का, अरहर, मसूर आदि चयनित हैं, जिनके ऊपर जलवायु परिवर्तन को ध्यान में रखते हुए मौसम के अनुरूप खेती कराके उत्पादन एवं उत्पादकता को बढ़ाना और किसानों को इसके लिए प्रशिक्षित करना शामिल है।

उन्होंने कहा कि इस योजना को 4 एजेंसियां बीमा सिमिट, पूसा समस्तीपुर, डॉ. राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विवि, बीएयू सबौर और आईसीएआरआरसीईआर के मायम से कराया जाएगा। बाद में इसे पूरे राज्य में लागू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इससे किसानों को बेहतर खेती करने का मौका मिलेगा जिससे उन्हें लाभ होगा।

Find Us on Facebook

Trending News