जमशेदपुर-बंगाल को जोड़ने वाले बिरसा पुल की हालत जर्जर, 1980 में बने इस पुल पर कभी भी हो सकता है बड़ा हादसा

जमशेदपुर-बंगाल को जोड़ने वाले बिरसा पुल की हालत जर्जर, 1980 में बने इस पुल पर कभी भी हो सकता है बड़ा हादसा

Dhanbad: झरिया की मोहलबनी में दामोदर नदी पर निर्मित बिरसा पुल की हालत काफी जर्जर होने लगी है. पुल पर जगह-जगह गड्डे बनने लगे हैं और ढलाई का तार निकला हुआ है और रेलिंग भी टूटी फूटी हुई है. वहीं पुल पर जल जमाव के कारण पुल का रॉड, गिट्टी, सीमेंट व छड़ अलग होने लगे हैं.

सड़क के अंदर से सरिया अब बाहर झांकने लगा है,, 40 साल पुराने पुल की सेफ्टी ऑडिट नहीं होने से पुल की क्षमता का भी सही आकलन नहीं किया जा सकता है.  डिनोबिली मोड़ से बिरसा पुल तक सड़क बनानेवाले ठेकेदार को कार्य विस्तारित कर दिया गया था. लोगों का कहना है कि सही ढंग से कार्य नहीं होने के कारण ही यह स्थिति जर्जर होने लगी है,कुछ लोगों का कहना है कि क्षमता से अधिक भार वाले वाहन लगातार आवाजाही कर रहे हैं. इस कारण पुल पर गड्ढे बन रहे हैं. बताते चलें कि पुल 1980-81 में बिहार सरकार के कार्यकाल में बनाया गया था, जिसका उदघाटन पूर्व सांसद स्व. एके राय के द्वारा किया गया था.

जमशेदपुर-बंगाल को जोड़ता है पुल

धनबाद- झरिया को झारखंड के बोकारो, जमशेदपुर, रांची, पश्चिम बंगाल के पुरुलिया, आद्रा, बांकुड़ा, रघुनाथपुर, संतालडीह आदि मुख्य शहरों के साथ ओडिशा व दक्षिण के अन्य राज्यों को भी यह पुल सड़क मार्ग से जोड़ने वाली पुल आज काफी जर्जर स्थिति में है. कभी भी बड़ा हादसा होने की संभावना बनी हुई है. इस पुल के रास्ते हजारों की संख्या में वाहन प्रतिदिन गुजरते हैं इस पर राज्य सरकार और जिला प्रशासन को ध्यान देना चाहिए और इसकी स्थिति पर ध्यान देना चाहिए. 


Find Us on Facebook

Trending News