भाजपा का आरोप, नीतीश की गलत नीतियों से फलफूल रहे दारू, बालू माफिया, खाद आपूर्ति रोककर किसानों के पेट पर मारा लात

भाजपा का आरोप, नीतीश की गलत नीतियों से फलफूल रहे दारू, बालू माफिया, खाद आपूर्ति रोककर किसानों के पेट पर मारा लात

नवादा. भाजपा के प्रदेश मंत्री डॉ पूनम शर्मा ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार की शराबबंदी सहित कई अन्य योजनाओं को लेकर राज्य सरकार को कठघरे में खड़ा किया हा. उन्होंने शनिवार को कहा कि पहले तो बिहार के सीएम ने शराबबंदी कर युवाओं को शराब की धंधा शामिल कर दिया और फिर उसी युवाओं को जेल की हवा खिला रहे हैं। बिहार के युवाओं के भविष्य को बर्बाद कर दिया हैं। पूरे बिहार में शराबबंदी फेल है। 

इसी तरह बालू माफियाओं के साथ सांठगांठ कर अवैध उगाई करने का काम बिहार के सीएम कर रहे हैं। इतना ही नहीं अब बिहार में इस समय किसानों की पेट पर भी लात मारने का काम नीतीश कुमार कर रहे हैं। अगर नवादा की ही बात करें तो नवादा में 18 तारीख से ही खाद पर पूरी तरह गायब है। यहां के किसानों को खाद भी उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। केंद्र सरकार के द्वारा बिहार को पूरी तरह खाद उपलब्ध कराया जा रहा है। लेकिन यह खाद की भी कालाबाजारी बिहार के सीएम के द्वारा शुरू कर दी गई है। बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने कालाबजारी में रिकॉर्ड कायम कर दिया है। 

उन्होंने कहा कि नवादा में 18 तारीख से बिस्कोमान में खाद खत्म हो गया है। नवादा की किसान को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बिस्कोमान में डीएपी का दाम 350 है। तो वही डीएपी का दाम मार्केट में 12 सौ से 15 सौ रुपये में कालाबाजारी के रूप में दुकानदारों के द्वारा बेचा जा रहा है। अब आने वाले समय में किसानों को परेशानी का सामना भी करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि मीडिया के माध्यम से खबर देखे हैं कि नवादा में खाद को लेकर महिलाओं के साथ मारपीट लंबी कतार चार लोग बेहोश भी हो गई थी। भारतीय जनता पार्टी किसानों के लिए अच्छा कार्य कर रही है, लेकिन बिहार में महागठबंधन के सत्ता में बैठे नीतीश कुमार किसानों के साथ अत्याचार शुरू कर दिये हैं।

सहायक भंडार प्रबंधक बिस्कोमान नवादा के सौरभ कुमार ने बताया है कि पूरी खाद खत्म हो चुका है। 10 से 15 दिन बाद ही नवादा को खाद उपलब्ध होगा। 5000 बोरी डीएपी व 5000 बोरी यूरिया की मांग की गई है. लेकिन यह भी पूरा उपलब्ध नहीं हुआ है. नवादा को मात्र 1000 बोरी डीएपी व यूरिया भेजा जाता है। जिसके कारण बिस्कोमान में आए दिन मारपीट की भी घटना घटती है।  


Find Us on Facebook

Trending News