CM नीतीश के 'खास' मंत्री अशोक चौधरी पर बिफरी बीजेपी! ....चौधरी जी पहले अपनी 'हैसियत' बढ़ायें, आपसे बड़े-बड़े मंत्री हमारे दल में हैं

CM नीतीश के 'खास' मंत्री अशोक चौधरी पर बिफरी बीजेपी! ....चौधरी जी पहले अपनी 'हैसियत' बढ़ायें, आपसे बड़े-बड़े मंत्री हमारे दल में हैं

PATNA : पटना एसएसपी के दिए गए विवादित बयान के बाद बिहार की राजनीति में गर्मी आ गई है। एसएसपी के बहाने बीजेपी-जेडीयू आमने-सामने आ गई है। पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों ने PFI से RSS की तुलना की,इसके बाद भाजपा उन्हें हटाने की मांग पर अड़ी है। वहीं दूसरी तरफ पटना एसएसपी के समर्थन में बीजेपी की सहयोगी जदयू खुलकर सामने आ गई है। जेडीयू कोटे से भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी ने भाजपा की मांग को खारिज कर दिया है। उन्होंने एसएसपी के खिलाफ कार्रवाई करने से मना कर दिया है। इसके बाद भाजपा ने अशोक चौधरी की जमकर खरी-खोटी सुनाई है।

अशोक चौधरी की हैसियत क्या है? 

बिहार बीजेपी के प्रवक्ता विनोद शर्मा ने पटना एसएसपी का पक्ष लेने पर मंत्री अशोक चौधरी की जमकर खिंचाई की। उन्होंने तीखा हमला बोलते हुए कहा कि अशोक चौधरी अपनी हैसियत बढ़ायें. विनोद शर्मा ने आगे कहा कि उनसे बड़े-बड़े मंत्री हमारे दल में हैं. उनकी बात क्या नीतीश कुमार मान लेंगे?  वे फालतू की बात कर रहे हैं। आरएसएस को पीएफआई से तुलना करने वाले एसएसपी पर सरकार कार्रवाई करे।

अशोक चौधरी ने एसएसपी का किया था बचाव 

अशोक चौधरी ने कहा कि मैं नहीं जानता कि एसएसपी ने क्या कहा, लेकिन अखबारों में पढ़ा है। मैं नहीं जानता कि एसएसपी ने किस संदर्भ में ऐसी बात कही है। बिना पूरी बात जाने किसी को गलत बताना सही नहीं होगा। अशोक चौधरी ने कहा भाजपा के कई नेता आरएसएस पर बयान दिया और आज केंद्र में मंत्री हैं तो क्या केंद्र में जो मंत्री अभी बने हुए हैं उन्होंने आरएसएस को लेकर कोई बात नहीं कहीं, सभी ने बातें कही है लेकिन क्या बीजेपी ने कार्रवाई की, नहीं की। 

कभी कभी फ्लो में बोल जाते हैं

अशोक चौधरी ने कहा कि कभी कभी लोग फ्लो में बोलने के दौरान कुछ बोल जाते  हैं. इसका मतलब यह नहीं कि वह यह बोलना चाहता था। इसे बेवजह का तूल दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि किसी को आपत्ति है तो एक मंच बना हुआ हैं, तो वहां अपनी  बात रख सकते हैं। इस दौरान उन्होंने बीजेपी के उन आरोपों को भी खारिज कर दिया जिसमें बीजेपी ने यह कहा था कि आतंकी मॉड्यूल मामले में पटना पुलिस की नाकामी छिपाने के लिए जानबूझकर पीएफआई और आरएसएस की आपस में तुलना की है। अशोक चौधरी ने कहा यह सही नहीं है।


Find Us on Facebook

Trending News