'भाजपा के हैं तीन जमाई- ED, IT और सीबीआई', सोनिया से पूछताछ के खिलाफ पटना में कांग्रेस का अनोखा विरोध

'भाजपा के हैं तीन जमाई- ED, IT और सीबीआई', सोनिया से पूछताछ के खिलाफ पटना में कांग्रेस का अनोखा विरोध

पटना. 'भाजपा के हैं तीन जमाई- ED, IT और सीबीआई'. इसी तरह के नारों के साथ पटना की सडकों पर गुरुवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ रोष प्रकट किया. डेकन हेराल्ड मामले में कांग्रेस सुप्रीमो सोनिया गांधी से प्रवर्तन निदेशालय की गुरुवार को होने वाली पूछताछ के खिलाफ कांग्रेस का देशव्यापी प्रदर्शन किया जा रहा है. 

बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने भी पटना की सडकों पर विरोध प्रदर्शन करते हुए केंद्र की मोदी सरकार पर केंद्रीय जांच एजेंसियों के दुरूपयोग का आरोप लगाया. 'सोनिया नहीं भारत की आन, बान और शान है तथा 130 करोड़ लोगों का स्वाभिमान है', 'स्वतंत्रता और सच्चाई कांग्रेस ने ही है दिलाई', अन्याय के खिलाफ थे रहेंगे, लड़े थे और लड़ेंगे' जैसे नारे बुलंद करते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सोनिया गांधी से हो रही पूछताछ का विरोध किया. 

कांग्रेस नेताओं ने केंद्र सरकार से ED और सीबीआई जैसी संस्थाओं का दुरूपयोग नहीं करने की अपील की. पटना के कारगिल चौक पर सुबह से ही बड़ी संख्या में जमे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इडी की कार्रवाई का विरोध किया. इसके पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने बुधवार रात राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के आवास पर बैठक की और गुरुवार के लिये रणनीति पर चर्चा की. इसमें राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत समेत पार्टी के कई वरिष्ठ नेता और सांसद शामिल हुए. गहलोत ने ट्वीट किया, खड़गे के निवास पर बैठक हुई. कांग्रेस के कार्यकर्ता सोनिया के प्रति एकजुटता प्रकट करते हुए देश भर में प्रदर्शन करेगी.


कांग्रेस अध्यक्ष को पहले भी आठ जून को पेशी के लिए नोटिस जारी किया गया था, लेकिन कोरोना वायरस से संक्रमित होने के कारण उन्हें 23 जून के लिए समन जारी किया गया था. ईडी ने सोनिया गांधी के पुत्र और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से इस मामले में पांच दिनों तक कई सत्र में 50 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की थी. यह जांच कांग्रेस द्वारा प्रवर्तित यंग इंडियन प्राइवेट लिमिटेड में कथित वित्तीय अनियमितताओं से संबंधित है, जो नेशनल हेराल्ड अखबार का मालिक है.

सोनिया, राहुल से पूछताछ की कार्रवाई पिछले साल के अंत में ईडी द्वारा धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) की आपराधिक धाराओं के तहत एक नया मामला दर्ज करने के बाद शुरू की गई. इससे पहले, एक निचली अदालत ने 2013 में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी द्वारा दायर एक निजी आपराधिक शिकायत के आधार पर यंग इंडियन के खिलाफ आयकर विभाग की जांच का संज्ञान लिया था.


Find Us on Facebook

Trending News