G-20 की बैठक को लेकर CM नीतीश कुमार पर BJP ने तेज किया हमला, सुशील मोदी बोले - PM मोदी का सामना करने की मुख्यमंत्री में नहीं है हिम्मत

G-20 की बैठक को लेकर CM नीतीश कुमार पर BJP ने तेज किया हमला, सुशील मोदी बोले - PM मोदी का सामना करने की मुख्यमंत्री में नहीं है हिम्मत

PATNA : दो दिन पहले जी-20 को लेकर पीएम मोदी मोदी के द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में सीएम नीतीश कुमार के नहीं शामिल होने पर बिहार बीजेपी ने बड़ा मुद्दा बना लिया है। जहां पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा. संजय जायसवाल ने बैठक में नहीं जाने को लेकर जदयू नेतृत्व पर सवाल उठाए थे, तो अब सुशील मोदी ने भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर बड़ा हमला करते हुए कहा है कि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को दो बार धोखा दिया, इसलिए अब उनमें हिम्मत नहीं है कि वह उनका सामना कर सकें। यही कारण है कि हर महत्वपूर्ण बैठक से वह दूर भाग रहे हैं। 

कब तक नजर चुराएंगे

सुशील कुमार मोदी ने कि नीतीश कुमार प्रधानमंत्री मोदी से नजर चुरा रहे हैं. अब उनके बिहार आने पर क्या मुख्यमंत्री प्रोटोकॉल के अनुसार पीएम का स्वागत करने भी नहीं जाएँगे? क्या वे केंद्र सरकार की उन बैठकों में नहीं सम्मिलित होंगे, जिसमें प्रधानमंत्री उपस्थित रहेंगे? ऐसे रवैये से राज्य का नुकसान होगा और बिहार की छवि खराब होगी, लेकिन नीतीश कुमार को इसकी चिंता नहीं है. ऐसा अहंकारपूर्ण व्यवहार राजनीतिक जीवन में उचित नहीं है।

पूछा - क्या जी-20 के कार्यक्रमों में कर रहे असहयोग

आगे राज्यसभा सदस्य ने कहा कि भारत को जी-20 का नेतृत्व मिलने के उपलक्ष्य में बिहार सहित देश भर में 200 से ज्यादा कार्यक्रम होने वाले हैं क्या नीतीश कुमार इन कार्यक्रमों में भी असहयोग करेंगे? यदि ऐसा हुआ, तो यह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण होगा।

महागठबंधन की सरकार बनने के बाद छह बार नीतीश रहे दूर

सुशील मोदी के द्वारा नीतीश कुमार पर पीएम का सामना नहीं करने की हिम्मत नहीं होने की बात कहने को लेकर वजह भी है। यह पहली बार नहीं है केंद्र की तरफ से बुलाए गए बैठक में नीतीश कुमार नहीं गए। बिहार में राजद के साथ सरकार बनाने के बाद छह बार ऐसे मौके बने, जब नीतीश कुमार और नरेंद्र मोदी का आमना सामना होना था, लेकिन नीतीश कुमार ने कार्यक्रम रद्द कर दिया। जिनमें महत्वपूर्ण रूप से नीति आयोग की बैठक में शामिल नहीं होना, राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू के शपथ ग्रहण से दूरी,  पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के विदाई भोज से दूरी शामिल है। इसके अलावा मुलायम सिंह यादव अंतिम दर्शन के समय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपना प्रोग्राम  कैंसिल कर दिया था। इसके पीछे का कारण उसी समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का वहां पहुंचना था

राजद और जदयू को छोड़ सभी पार्टी के लोग पहुंचे

दो दिन पहले हुए इस बैठक में अगले साल भारत में होनेवाल दुनिया के 20 शक्तिशाली देशों के बैठक को लेकर तैयारी पर चर्चा की जानी थी, जिसमें प्रधानमंत्री के बुलावे पर देश की तमाम प्रमुख पार्टियों के प्रमुख सहित कई बड़े नेता शामिल हुए। इसमें ममता बनर्जी, अरविंद केजरीवाल, मल्लिकार्जुन खड़गे सहित अन्य बड़े नेता मौजूद रहे। सिर्फ जदयू और राजद ही ऐसी पार्टी रही, जिन्होंने इस महत्वपूर्ण बैठक में जाना जरुरी नहीं समझा और इसका बहिष्कार कर दिया।


Find Us on Facebook

Trending News