भाजपा-जदयू के चुप्पी से जदयू विथायक के आरोपों की पुष्टि : राजद

भाजपा-जदयू के चुप्पी से जदयू विथायक के आरोपों की पुष्टि : राजद

PATNA : राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश प्रवक्ता चित्तरंजन गगन ने कहा है कि भाजपा-जदयू के नेताओं की चुप्पी से जदयू विथायक गोपाल मंडल द्वारा राज्य के उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद पर लगाये गए गंभीर आरोपों की पुष्टि हो रही है। गगन ने कहा कि मुख्यमंत्री के बेहद करीबी जदयू विथायक गोपाल मंडल ने बजाप्ता प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद पर अवैध वसूली करने और दलालों को संरक्षण देने का गंभीर आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि उप मुख्यमंत्री का भागलपुर दौरा का उद्देश्य हीं वसूली करना रहता है। पर अबतक इन आरोपों पर न तो उप मुख्यमंत्री का कोई स्पष्टीकरण आया है और न मुख्यमंत्री की ओर से कोई सफाई दी गई है। सबसे आश्चर्य की बात तो यह है कि विपक्षी दलों के कपोलकल्पित घटनाओं पर भी अनर्गल बयानबाजी और ट्वीट की झड़ी लगा देने वाले भाजपा और जदयू  नेताओं की बोलती आज बंद क्यूँ है।

राजद प्रवक्ता ने मुख्यमंत्री से जानना चाहा है कि तेजस्वी यादव के उप मुख्यमंत्रीत्व काल में विपक्ष द्वारा आरोप लगाये जाने पर सम्बद्ध विभाग के सचिव द्वारा जाँचोपरांत क्लीनचिट दिये जाने के बावजूद अन्तरात्मा की आवाज पर उन्होंने महागठवंधन से अलग होकर एक अच्छे ढंग से चल रहे सरकार को अपदस्थ कर दिया था। लेकिन आज तो मामला उससे ज्यादा गंभीर है क्यूंकि आरोप लगाने वाला विपक्ष का नहीं बल्की सत्ताधारी दल का वरिष्ठ विधायक है। आज मुख्यमंत्री की अन्तरात्मा कहाँ बंधक पड़ी हुई है ? इतने गंभीर आरोप पर उप मुख्यमंत्री से स्पष्टीकरण मांगने की हिम्मत क्यों नहीं हो रही है? 

राजद प्रवक्ता ने कहा कि भ्रष्टाचार से इस सरकार का चोली-दामन का सम्बन्ध है। सत्ताधारी विधायकों सहित मंत्री तक अनेकों बार पदाधिकारियों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते रहे हैं। लेकिन अब तो सत्ताधारी दल के एक वरिष्ठ विधायक द्वारा बजाप्ता प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से उप मुख्यमंत्री पर वसूली का गंभीर आरोप लगाते हुए जाँच कराने की माँग की गई है। इसलिए आरोप की गंभीरता को देखते हुए मुख्यमंत्री को अविलम्ब जाँच का आदेश देना चाहिए, साथ हीं उप मुख्यमंत्री जी सार्वजनिक रूप से स्पष्टीकरण दिलवाना चाहिए। 

पटना से विवेकानंद की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News