बीजेपी के तीन उम्मीदवार हैट्रिक लगाने को बेताब,विरोध में नए रणबांकुरे बाजी पलटने को तैयार...

बीजेपी के तीन उम्मीदवार हैट्रिक लगाने को बेताब,विरोध में नए रणबांकुरे बाजी पलटने को तैयार...

पटना-  बिहार में छठे चरण में 8 लोकसभा क्षेत्रों में 12 मई को मतदान है।आज शाम छठे चरण का चुनाव प्रचार खत्म हो रहा है। लेकिन उन आठ क्षेत्रों में तीन संसदीय क्षेत्र का बड़ा हीं दिलचस्प मुकाबला दिख रहा है।एक तरफ बीजेपी के तीनों उम्मीदवार लगातार तीसरी बार जीतने को बेताब हैं।वहीं उनकी रथ को रोकने के लिए तीन नए रणबांकुरे मैदान में हैं।

हम बात कर रहे हैं पश्चिम चंपारण,पूर्वी चंपारण और शिवहर की।इन तीनों लोकसभा क्षेत्र में बीजेपी प्रत्याशी लगातार तीसरी बार जीत के लिए पसीना बहा रहे हैं।पश्चिम चंपारण सीट से बीजेपी उम्मीदवार डा. संजय जायसवाल,पूर्वी चंपारण सीट से राधामोहन सिंह और शिवहर सीट से रमा देवी।ये तीनों 2009,2014 का लोकसभा चुनाव जीत चुके हैं।2019 के चुनाव में भी बीजेपी नेतृत्व नें उन तीनों पर भरोसा जता कर एक बार फिर से मैदान में उतारा है।

नए चेहरे के पीछे छिपा है पुराना चेहरा

लेकिन इन तीन लोकसभा क्षेत्र में बीजेपी उम्मीदवार के सामनें नए प्रत्याशी मैदान में हैं।महागठबंधन ने इन तीन योद्धाओं के सामने पूरी तरीके से राजनीति के नए चेहरे को मैदान में उतारा है।हालांकि नए चेहरे के पीछे बड़ा चेहरा छिपा है।पश्चिम चंपारण में बीजेपी की तरफ से डा. संजय जायसवाल तीसरी बात जीत दर्ज करने को लेकर खूब जोड़-तोड़ कर रहे। उनके खिलाफ आरएलएसपी से वृजेश कुशवाहा मैदान में है।वृजेश पहली बार चुनाव मैदान में उतरे हैं।

अगर पूर्वी चंपारण की बात करें तो बीजेपी प्रत्याशी राधामोहन सिंह के समक्ष भले हीं आरएलएसपी के आकाश सिंह नए चेहरा हों .लेकिन उनके पिता डा. अखिलेश प्रसाद सिंह वहां से सांसद रहे चुके हैं। अखिलेश सिंह 2004 के चुनाव में राधामोहन सिंह को हरा चुके हैं।इस बार वे अपने बेटे को राधामोहन सिंह के खिलाफ मैदान में उतारे हैं।कांग्रेस राज्यसभा सांसद अखिलेश सिंह बीजेपी प्रत्य़ाशी राधामोहन सिंह को पटखनी देने के लिए सारी ताकत झोंक दी है।हालांकि राधामोहन सिंह भी लगातार तीसरी दफा संसद पहूँचने के लिए इमोशनल कार्ड खेला है।  

शिवहर की बात करें तो बीजेपी उम्मीदवार रमा देवी 2009 के चुनाव से ठीक पहले  राजद को छोड़ बीजेपी में आयीं।उसके बाद पार्टी नें उन्हें शिवहर से टिकट दिया।तब से वे लगतार जीत दर्ज कर रही हैं।इस बार उनके खिलाफ राजद के टिकट पर सैयद फैसल अली चुनाव मैदान में हैं।फैसल अली भी पहली दफे चुनाव मैदान में हैं।उनके लिए चुनाव और क्षेत्र दोनों नया है।हालांकि वे भी रमा देवी को रोकने के लिए खूब मिहनत की है। 

Find Us on Facebook

Trending News