बीजेपी के दो बागी नेता, विशेष विमान,, भुवनेश्वर का स्थान, सामने भाजपा का शीर्ष कमान,, फिर क्या हुआ,,,पढ़ लीजिये

बीजेपी के दो बागी नेता, विशेष विमान,, भुवनेश्वर का स्थान, सामने भाजपा का शीर्ष कमान,, फिर क्या हुआ,,,पढ़ लीजिये

पटना- बिहार बीजेपी अपनी मुसीबत को कम करने का हर जतन कर रही है. बागी नेताओं को मनाने के लिए पार्टी नेतृत्व अपने मिशन में लगी है. बुधवार को बीजेपी के बागी एमएलसी सच्चिदानंद राय और दूसरे बागी वाल्मीकि नगर के सांसद सतीशचंद्र दूबे को पटना एयरपोर्ट से विशेष विमान से भुनेश्वर ले जाया गया था. बताया जाता है कि बागी नेताओं को भुनेश्वर में पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से बात कराई गई है. जो जानकारी मिली है उसके अनुसार दोनों नेताओं ने अपने शीर्ष नेतृत्व को अपने और समाज के वोटरों के नाराजगी की वजह बताई है. खबर है कि दोनों बागी नेताओं ने पार्टी नेतृत्व को बताया है कि आपका परंपरागत वोटरों में काफी नाराजगी है. अगर इस समस्या को दूर नहीं किया गया तो आगे चलकर पार्टी को भारी नुकसान उठाना पड़ेगा. बताया जाता है कि करीब आधे घंटे तक दोनों बागी नेताओं से पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने अलग अलग बात की है. सच्चितनन्द राय ने जहां अपने समाज की उपेक्षा को लेकर बागी होने की बात कही वहीं वाल्मीकि नगर के सांसद सतीशचंद्र दूबे ने आरोप लगाया कि जानबूझ कर उनकी सीट जदयू के हवाले कर दी गयी. जबकि जदयू शिवहर सीट मांग रही थी. लेकिन कुछ नेताओं ने इसमें चाल चली और शिवहर के बदले वाल्मीकि नगर दे दिया गया. 

दरअसल बुधवार की शाम विशेष विमान से बिहार प्रभारी भूपेन्द्र यादव, संगठन महामंत्री नागेन्द्र और बीजेपी के दो बागी नेता सच्चिदानंद राय और सतीशचंद्र दूबे साथ-साथ पटना एयरपोर्ट से गए हैं. लेकिन यह पता नहीं चल सका था कि विशेष विमान से नाराज नेताओं को किस जगह ले जाया गया था. बताया जाता है कि विशेष विमान सीधे भुनेश्वर गया और रात में ही दोनों नेताओं को पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से बात कराई गई.

आज दिल्ली जाएंगे दोनों बागी नेता

खबर तो यह भी है कि भुनेश्वर में बातचीत होने के बाद दोनों बागी नेताओं को दिल्ली आने को कहा गया है. बताया जाता है कि आज दोनों बागी नेता दिल्ली जाएंगे.

आखिर क्यों बागी बने हैं सच्चिदानंद राय

बिहार में सीट बंटवारे में भूमिहार-ब्राह्मण समाज को दरकिनार किए जाने के बाद पार्टी के विधानपार्षद सच्चिदानंद राय ने पार्टी से खुली बगावत कर दी है. उन्होंने एलान कर दिया है कि वे कई इलाकों में बीजेपी प्रत्याशी को हराने का काम करेंगे. बीजेपी विधानपार्षद ने खुद महाराजगंज लोकसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी सिग्रीवाल के खिलाफ निर्दलीय चुनाव लड़ने का एलान कर दिया है. इसको लेकर उनकी तैयारी भी चल रही है और नामांकन की तिथि भी घोषित कर दी है. बीजेपी विधानपार्षद ने पार्टी आरोप लगाया है कि जिस समाज ने बीजेपी को सींचने का काम किया उसे इस बार टिकट देने में पूरे तौर पर दरकिनार कर दिया गया है. लिहाजा अब चुप नहीं बैठा जा सकता और हक की लड़ाई को आगे जारी रखेंगे.

Find Us on Facebook

Trending News