पूर्वोत्तर में बीजेपी को लग सकता है बड़ा झटका, नागरिकता बिल संसोधन के विरोध में एनपीपी की एनडीए से अलग होने की धमकी

पूर्वोत्तर में बीजेपी को लग सकता है बड़ा झटका, नागरिकता बिल संसोधन के विरोध में एनपीपी की एनडीए से अलग होने की धमकी

NEWS4NATION DESK : पूर्वोत्‍तर भारत में बीजेपी को झटका लग सकता है। असम के बाद अब मेघालय में भी नागरिकता संशोधन बिल, 2016 को लेकर विरोध शुरु हो गया है। मेघायलय की सत्तासीन नैशनल पीपल्‍स पार्टी (एनपीपी) के अध्‍यक्ष और राज्य के मुख्यमंत्री कोनार्ड संगमा ने इस मुद्दे पर एनडीए से अलग होने की धमकी दी है। 

संगमा का कहना है कि अगर नागरिकता संशोधन बिल राज्‍यसभा से पास हो जाता है तो उनकी पार्टी एनडीए गठबंधन से अलग हो जाएगी।इससे पहले 8 जनवरी को लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल पारित होने के बाद संगमा ने इसे दुर्भाग्‍यपूर्ण बताया था। उन्‍होंने बीजेपी से संबंध तोड़ने को लेकर किए गए सवाल पर अपनी पार्टी के नेताओं से चर्चा करने की बात कही थी। उन्‍होंने कहा था कि इस बिल का पारित होना बेहद दुखद है क्‍योंकि हमने इसका व्‍यापक स्‍तर पर विरोध जताया था। बता दें कि कुछ दिन पहले पूर्वोत्‍तर की 11 राजनीतिक पार्टियों ने इस बिल के खिलाफ एकजुट होकर मोदी सरकार से इसे रद करने की मांग की थी। 

गौरतलब है कि एनपीपी मणिपुर और अरुणाचल प्रदेश में बीजेपी के नेतृत्‍व वाली सरकार का समर्थन कर रही है। वहीं मेघालय में एनपीपी के नेतृत्‍व वाली मेघालय लोकतांत्रिक गठबंधन सरकार का बीजेपी समर्थन कर रही है। इससे पहले नागरिकता संशोधन बिल के विरोध में असम में एनडीए की सहयोगी असम गण परिषद (एजीपी) ने राज्‍य सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया था।

Find Us on Facebook

Trending News