BIHAR NEWS : हाथ में फ्रैक्चर के बावजूद खुद को नहीं रोक पाए भाजपा विधायक, महावीरी जुलूस में जमकर भांजी लाठी

BIHAR NEWS : हाथ में फ्रैक्चर के बावजूद खुद को नहीं रोक पाए भाजपा विधायक, महावीरी जुलूस में जमकर भांजी लाठी

MOTIHARI : कोरोना के कारण दो वर्षों बाद नागपंचमी के अवसर पर जिला के अरेराज, संग्रामपुर,पताही सहित प्रखंडो में महावीरी झंडा निकाला गया। हाथी घोड़ा व लाठी डंडे से लोगों ने जमकर करतब दिखाया। महावीरी झंडा को लेकर डीएम व एसपी के निर्देश पर सभी स्थलों पर कड़ी सुरक्षा की व्यवस्था किया गया था। चप्पे चप्पे पर पुलिस पदाधिकारी व दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई थी। जिला के सभी प्रखंडो में महावीरी झंडा शांतिपूर्ण माहौल में सम्प्पन हुई। 

नागपंचमी के अवसर पर महावीरी झंडा का अरेराज में भजाप  द्वारा लाठी खेल शुरुआत किया गया। वही संग्रामपुर के दुबेटोला में पहलवानों द्वारा करतब दिखाया गया। महावीरी झंडा की झांकी में हाथी घोड़ा उट रथ सहित बड़ी संख्या में भक्त जय श्री राम के नारे के साथ क्षेत्र भ्रमण कर रहे थे। वही पताही में सबसे ऊँचा झंडा आकर्षक का केंद्र बना रहा। झंडा जुलूस में विधि-व्यवस्था को लेकर एसडीओ,डीएसपी,बीडीओ,सीओ संबंधित थाना पुलिस तैनात दिखे। कोरोना काल के बाद महावीरी झंडा को लेकर भक्तों में काफी उत्साह देखने को मिला।

वहीँ पश्चिम चम्पारण मे शांतिपूर्ण तरीके से नागपंचमी का पर्व मनाया गया।  इस अवसर पर शहर और गाँव मे महावीरी अखाड़ा निकालने का रिवाज है। जिसमें लोग लोग पारंपरिक तरीके से लाठी व फरसे से करतब दिखाते है। वही छोटे छोटे बच्चों ने भी इस पर्व को काफी उत्साह से मनाया। प्रशासन की तरफ से भी पूरी चौकसी की गयी।

उधर औरंगाबाद जिले के मदनपुर प्रखंड के वार गांव में स्थित बक्स बाबा मंदिर में नाग पंचमी के अवसर पर लाखों की संख्या में श्रद्धालुयों की भीड़ उमड़ पड़ी। श्रद्धालुओं ने नाग देवता को दूध और लावा चढ़ा कर पूजा अर्चना किया। हालाँकि भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। मंदिर के पुजारी यमुना यादव ने कहा की यहां पिछले 60 वर्षों से नाग पंचमी पर श्रद्धालूओं की भीड़ लगती है। आज के दिन जिले में किसी के यहां नमक का इस्तेमाल नहीं होता हैं। वहीं बक्श बाबा के दरबार में किसी भी तरह के विषैले जीव के काटने पर यहां आने के बाद वो व्यक्ति ठीक होकर जाता है। जिसको लेकर लोगो में आस्था है। वहीं ज़िला परिषद् सदस्य शंकर यादवेंदु ने कहा कि मन्दिर कमेटी के द्वारा इससे पहले से भी उचित व्यवस्था करने की प्रशासन से मांग की गई थी। लेकिन प्रशासन ने कुछ पुलिस बल तैनात कर अपना पाला झाड़ लिया। जबकि भीड़ की जो स्थिति है इसमें दुघर्टना की आशंका बढ़ जाती है।

मोतिहारी से हिमांशु, बेतिया से आशीष और औरंगाबाद से दीनानाथ मौआर की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News