बीजेपी एमएलसी का ऐलान-भाजपा के ‘चोर चौकीदार’ के खिलाफ महाराजगंज से लडूंगा चुनाव

PATNA :बीजेपी के विधान पार्षद सच्चिदानंद राय ने बीजेपी नेतृत्व को खुली चुनौती दे दी है।उन्होंने एलान कर दिया है कि वे महाराजगंज संसदीय क्षेत्र से चुनाव लड़ेंगे। सच्चिदानंद राय ने कहा कि बीजेपी ने एक घोटालेबाज चौकीदार को एक बार फिर से मैदान में उतारा है।

निगरानी ने सीग्रीवाल पर दाखिर किया है चार्जशीट

बीजेपी एमएलसी ने कहा कि पार्टी ने जिस नेता को एक बार फिर से मैदान मे उतारा है उस पर निगरानी विभाग ने सरकारी राशि के घोटाले का चार्जशीट दाखिल किया है ।बावजूद बीजेपी ने जर्नादन सिंह सीग्रीवाल को मैदान में उतारा है। बीजेपी विधान पार्षद ने कहा कि बीजेपी के नेता भले ही चौकीदारी की बात करते हों लेकिन उन्होंने एक ऐसे चौकीदार को मैदान मे उतारा है जो भ्रष्टाचारी है। जिनके खिलाफ वहां के 2 स्कूलों में बतौर सचिव रहते सरकारी राशि के गबन का आरोप है। सिर्फ आरोप ही नहीं बल्कि हाईकोर्ट के आदेश पर हुई निगरानी जांच में भी उन आरोपों की पुष्टि हुई और निगरानी विभाग ने कोर्ट में चार्जशीट दाखिल भी कर दिया है।बीजेपी एमएलसी ने तंज कसते हुए कहा कि बीजेपी जिसे चौकीदार बता महाराजगंज से एक बार फिर से मैदान में उतारा है वह गबन के आरोप मे जमानत पर है।

हर हाल मे लडूंगा चुनाव

बीजेपी एमएलसी सच्चिदानंद राय ने न्यूज4नेशन से बातचीत में कहा कि बीजेपी ने भूमिहार-ब्राह्मण समाज को उपेक्षित किया है।इस बार बीजेपी नेतृत्व ने टिकट देने में इस समाज के साथ छल किया है। ऐसे में अब चुप बैठना संभव नहीं। उन्होंने कहा कि सिर्फ महाराजगंज ही नहीं बल्कि पांचवे-छठे और सातवें चरण के कई सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी है।वे खुद महाराजगंज सीट से चुनाव मैदान में उतरेंगे।हमारी उन सीटों पर नजर है जहां से इस समाज के प्रत्याशी जीतते आए हैं।लेकिन इस बार बीजेपी और जदयू ने टिकट नही दिया है। उन्होने कहा कि जहानाबाद,पाटलिपुत्रा ,मुजफ्फरपुर सहित कई अन्य सीट जहां भूमिहार-ब्राहम्ण समाज  के वोटरों की संख्या है उस पर नजर है और वहां से उमीदवार उतारा जाएगा।

अनुशासनात्मक कार्रवाई का नहीं है डर

बीजेपी एमएलसी ने कहा कि अगर इस समाज का महागठबंधन से भी प्रत्याशी होगा तो वहां उसे जीताने मे मदद किया जाएगा।बीजेपी एमएलसी ने पार्टी नेतृत्व पर आरोप लगाया कि जिसने पार्टी को सीचने का काम किया उसी के साथ टिकट देने मे छल किया जा रहा है।ऐसी स्थिति मे आगे आने के अलावे कोई चारा नही है।अगर बीजेपी अनुशासनात्मक कार्रवाई भी करती है तो इसका कोई परवाह नही है।


Find Us on Facebook

Trending News