बीजेपी घोषणा पत्र के लिए बिहार की जनता से लेगी सुझाव, 17 रथों के जरिए सभी 243 क्षेत्रों में करेगी रायशुमारी

बीजेपी घोषणा पत्र के लिए बिहार की जनता से लेगी सुझाव, 17 रथों के जरिए सभी 243 क्षेत्रों में करेगी रायशुमारी

PATNA : ‘भारत के मन की बात- मोदी के साथ’ कार्यक्रम में बीजेपी देश भर के 10 करोड़ लोगों से अपने घोषणा पत्र के लिए सुझाव लेने जा रही है। इस कड़ी में बिहार में भी बीजेपी 17 रथों के जरिए सभी 243 विधान सभा क्षेत्रों में घूमकर लोगों से सुझाव लेगी। आम लोगों को अपने मन की बात एक फॉम में लिखकर रथ में रखे बॉक्स में डाल देना होगा। लोगों से मिले सुझाव को बीजेपी अपने मेनिफेस्टो में शामिल करेगी।

 पहली बार किसी राजनीतिक दल द्वारा ऐसा प्रयोग किया जा रहा है। सोमवार को पटना में बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी और बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने प्रेस कांफ्रेंस में इसकी घोषणा की।

क्या है योजना

बता दें कि 'भारत के मन की बात - मोदी के साथ' कार्यक्रम में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने संकल्प पत्र के लोकतांत्रिकरण के लिए एक अनुठे प्रयोग का ऐलान रविवार को दिल्ली में किया था। उन्होंने कहा कि संकल्प पत्र के लिए 10 करोड़ परिवारों से सुझाव लिया जाएगा कि देश की जनता कैसा देश चाहती है। भाजपा जानेगी देशवासी कैसा भारत चाहते हैं, न्यू इंडिया के लिए उनकी परिकल्पना क्या है।

 अमित शाह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी और बाकी पार्टियों में बहुत बड़ा अंतर है। भाजपा देश की एक मात्र ऐसी पार्टी है जिसके अंतर आतंरिक लोकतंत्र है। जिस पार्टी के अंतर आतंरिक लोकतंत्र होता है, वही पार्टी देश के लोकतंत्र को मजबूत कर सकती है।

जनता को हिसाब देगी पार्टी

सुशील मोदी ने इस अवसर पर विपक्षी नेताओं पर हमला करते हुए कहा कि वे भी अपने शासन काल का हिसाब दें और मेरी पार्टी भी देगी। मोदी ने कहा कि विपक्षी लोग तो अपने कार्यों का ब्यौरा नहीं देंगे लेकिन मेरी पार्टी अपने कामों का बिहार की जनता को हिसाब देगी। लोकसभा चुनाव के नामांकन से पहले पार्टी जनता को हिसाब दे देगी। सुशील मोदी ने कहा कि जो काम करते हैं उन्हीं से जनता को अपेक्षा भी रहती है। हमारी सरकार से जनता को काफी अपेक्षाएं हैं जिसको लेकर हमलोग जनता को अपने कार्यों का हिसाब देंगे।

Find Us on Facebook

Trending News