भाजपा ने किया आदित्य ठाकरे के बिहार दौरे का विरोध, शिवसेना नेता को बताया - बिहार विरोधी मानसिकता का शिकार

भाजपा ने किया आदित्य ठाकरे के बिहार दौरे का विरोध, शिवसेना नेता को बताया - बिहार विरोधी मानसिकता का शिकार

पटना. शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे के बिहार आगमन पर भाजपा ने कड़ी आपत्ति जताई है. भाजपा ने आदित्य ठाकरे के दौरे को लेकर सवालिया निशान लगाया है. आदित्य ठाकरे बुधवार को उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से मिलने वाले हैं. उनके बिहार आगमन पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भाजपा के ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय महासचिव निखिल आनंद ने कई सवाल दागे. 

निखिल आनंद ने कहा, सुशांत सिंह राजपूत और दिशा सालियान की संदेहास्पद मृत्यु के बाद आदित्य ठाकरे, संजय राउत और उद्धव ठाकरे ने जिस तरह का बर्ताव किया था, उसे हम कभी भूल नहीं सकते. तेजस्वी को बिहार विरोधी मानसिकता और सुशांत की मौत के जिम्मेदार संदिग्ध चरित्र वाले लोगों से मिलने का बहिष्कार करना चाहिए. 

दरअसल, पिछले दो साल के दौरान फिल्म कलाकार सुशांत सिंह राजपूत और दिशा सालियान की संदेहास्पद मृत्यु के बाद आदित्य ठाकरे सहित अन्य शिवसेना नेताओं के विवादास्पद बयान आए थे. सुशांत सिंह की मौत के बाद काफी दिनों तक उनकी मौत संदेह के घेरे में रही. इसे लेकर काफी राजनीतिक बयानबाजी हुई थी. इसी तरह पिछले दशकों के दौरान शिवसेना नेताओं द्वारा लगातार बिहार के लोगों को महाराष्ट्र में निशाना बनाया गया. अब इसी को मुद्दा बनाते हुए निखिल ने अब ट्विटर पर आदित्य के खिलाफ हमला बोला है. 


साथ ही उन्होंने उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को भी निशाने पर लिया है. तेजस्वी को भी सुझाव देते हुए कहा कि बिहार विरोधी मानसिकता और सुशांत की मौत के जिम्मेदार संदिग्ध चरित्र वाले लोगों से मिलने का बहिष्कार करना चाहिए. हालांकि आदित्य ठाकरे पटना में अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत आए हैं और उनकी तेजस्वी से मुलाकात हो रही है. 


Find Us on Facebook

Trending News