भाजपा का आरोप- गुजरात में मोदी सरकार अस्थिर करने के लिए तीस्ता सीतलवाड़ को कांग्रेस ने दिया 30 लाख, कांग्रेस ने कहा- मनगढंत

भाजपा का आरोप- गुजरात में मोदी सरकार अस्थिर करने के लिए तीस्ता सीतलवाड़ को कांग्रेस ने दिया 30 लाख, कांग्रेस ने कहा- मनगढंत

DESK. भाजपा ने आरोप लगाया है कि सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ को 2002 में गुजरात सरकार को अस्थिर करने के लिए कांग्रेस फंड मिला था. यह दावा गुजरात सरकार द्वारा गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) की रिपोर्ट के आधार पर भाजपा ने कांग्रेस पर लगाया है. एसआईटी के मुताबिक, गोधरा कांड के बाद हुए गुजरात दंगों के बाद आरोपी सीतलवाड़ ने शुरू से ही इस षड़यंत्र का हिस्सा बनना शुरू कर दिया था. उन्होंने गोधरा ट्रेन की घटना के कुछ दिनों बाद ही अहमद पटेल के साथ बैठक की थी और पहली बार में उन्हें पांच लाख रुपये दिए गए थे. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के निर्देश पर एक गवाह ने उन्हें पैसे दिए. 

पुलिस ने कोर्ट को बताया कि दो दिन बाद शाहीबाग में सरकारी सर्किट हाउस में पटेल और सीतलवाड़ के बीच हुई बैठक में गवाह नवे पटेल के निर्देश पर सीतलवाड़ को 25 लाख रुपये और दिए. अब भाजपा ने इसी को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा है. भाजपा ने कहा कि गुजरात सरकार अस्थिर करने के लिए तीस्ता सीतलवाड़ को कांग्रेस ने 30 लाख रुपए दिए. यह राशि कांग्रेस नेता सोनिया गांधी के निर्देश पर दिए गए. 

गुजरात में साल 2002 में भीषण दंगे हुए थे, तब विपक्ष में कांग्रेस मुख्य पार्टी थी. गुजरात दंगों पर एसआईटी टीम की ओर से किए गए दावों पर कांग्रेस का भी जवाब आया है. पार्टी ने दिवंगत नेता अहमद पटेल पर लगे आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी पलटवार किया है. कांग्रेस ने कहा कि जांच एजेंसी की तरफ से अहमद पटेल के खिलाफ आरोप लगाना प्रधानमंत्री की ही व्यवस्थित रणनीति का हिस्सा है, ताकि वे खुद को उस दौर में हुए सांप्रदायिक कत्लेआम की जिम्मेदारी से दोषमुक्त साबित कर सकें. वह भी उस घटना के लिए, जिसके होने के वक्त वे खुद मुख्यमंत्री थे.

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा, "प्रधानमंत्री की राजनीतिक प्रतिशोध की मशीन उन दिवंगत नेताओं को भी नहीं बख्शती, जो उनके सियासी विरोधी थे." उन्होंने आगे कहा- यह उनकी (मोदी की) अनिच्छा और अक्षमता थी कि वह इस नरसंहार को नहीं रोक पाए. इसी वजह से तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने मुख्यमंत्री मोदी को राजधर्म निभाने की बात कही थी."


Find Us on Facebook

Trending News