BJP ने कहा - अधार्मिक व्यक्ति हैं नीतीश कुमार, एक मुस्लिम को हिन्दुओं को पवित्र स्थल पर ले जाकर करोड़ों की आस्था का मखौल उड़ाया, सार्वजनिक रूप से माफी मांगे

BJP ने कहा - अधार्मिक व्यक्ति हैं नीतीश कुमार, एक मुस्लिम को हिन्दुओं को पवित्र स्थल पर ले जाकर करोड़ों की आस्था का मखौल उड़ाया, सार्वजनिक रूप से माफी मांगे

PATNA : विष्णुपद मंदिर में सोमवार को जिस तरह से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने कैबिनेट में शामिल एक मुस्लिम चेहरे को गर्भ गृह में लेकर गए, उसके बाद वह भाजपा के निशाने पर आ गए है। भाजपा ने नीतीश कुमार को न सिर्फ अधार्मिक व्यक्ति करार दिया है. बल्कि इसके साथ कल की घटना के बाद हिन्दुओं की आस्था का मखौल उड़ाने का आरोप लगाया है। 

भाजपा प्रवक्ता निखिल आनंद ने नीतीश कुमार को निशाने पर लेते हुए 2009 तारेगना में सूर्यग्रहण के दौरान नीतीश कुमार बिस्कुट खाने लगे थे। तब लालू प्रसाद ने कहा था कि सूर्यग्रहण के कारण बिस्कुट खाने के कारण प्रदेश को सूखा का सामना करना पड़ रहा है। अब नीतीश जी, धर्म, कर्मकांड नहीं मानते हैं, यही कारण है कि वह विष्णुपद मंदिर में ऐसे लोगों को साथ लेकर गए, जिनके आने पर प्रतिबंध लगा हुआ है। लेकिन उन्होंने इसके बाद भी वह गैर हिन्दू को मंदिर में लेकर गए। 


निखिल आनंद ने कहा कि नीतीश कुमार बताएं कि जिस तरह की हरकत उन्होंने विष्णुपद मंदिर में की है, वह किसी दूसरे धर्म के लोगों के लिए कर सकते हैं। विष्णुपद मंदिर पूरी दुनिया के हिन्दुओं के लिए आस्था का केंद्र है। यहां कर्मकांड होते हैं, लोगों को मोक्ष की प्राप्ती होती है। ऐसे धार्मिक और पवित्र स्थल पर एक गैर हिन्दू को ले जाकर उन्होंने आस्था का मखौल उड़ाया है। इस घटना की जितनी निंदा की जाए वह कम होगी।

निखिल आनंद ने कहा धर्मनिरपेक्षता के नाम पर सिर्फ हिन्दुओं की भावना का ठेका ले रखा है। हमारी मांग है बहुसंख्यक की भावना को ठेस पहुंचाने के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगे।


Find Us on Facebook

Trending News