पूर्वी चंपारण में कुशवाहा वोटरों को बचाने के लिए बीजेपी बहा रही पसीना,उपेन्द्र कुशवाहा की काट में नागमणि मैदान में

पूर्वी चंपारण में कुशवाहा वोटरों को बचाने के लिए बीजेपी बहा रही पसीना,उपेन्द्र कुशवाहा की काट में नागमणि मैदान में

PATNA : पूर्वी चंपारण लोकसभा में  क्षेत्र में इस बार बीजेपी को कई मोर्चों पर एकसाथ लड़ाई लड़नी पड रही है। बीजेपी की सबसे बड़ी चिंता अपने आधार वोटरो को बचाने को लेकर है। उपेन्द्र कुशवाहा के महागठबंधन में चले जाने के बाद बीजेपी प्रत्याशी राधामोहन सिंह कुशवाहा वोटरों को अपने पक्ष में बरकरार रखने की जी तोड़ मेहनत कर रहे है।

पूर्वी चंपारण में कुशवाहा वोटरों की अच्छी संख्या

पूर्वी चंपारण लोकसभा क्षेत्र में कुशवाहा वोटरों की अच्छी संख्या है। इस संसदीय क्षेत्र के हरसिद्धी,केसरिया मोतिहारी और पिपरा विधानसभा क्षेत्रों में कुशवाहा वोटर बड़ी संख्या में हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव में पार्टी प्रत्याशी राधामोहन सिंह को इसका बड़ा लाभ मिला था।

इस बार महागठबंधन की तरफ से उपेन्द्र कुशवाहा की पार्टी आरएलएसपी उम्मीदवार पूर्वी चंपारण के रण में हैं। कुशवाहा ने वहां से आकाश सिंह को प्रत्याशी बनाया है। उपेन्द्र कुशवाहा की तरफ से मोतिहारी से उम्मीदवार बनाए जाने के बाद बीजेपी प्रत्याशी राधामोहन सिंह खासे परेशान हैं।

उपेन्द्र कुशवाहा की काट में नागमणि मैदान में

कुशवाहा वोटरों को पाले में रखने और उपेन्द्र कुशवाहा की काट में बीजेपी ने पूर्व सांसद नागमणि को मैदान में उतारा है। नागमणि कुशवाहा वोटरों को एनडीए प्रत्याशी राधामोहन सिंह से जुड़े रहने के लिए खूब पसीना बहा रहे है। राधामोहन सिंह अपने संसदीय क्षेत्र में नागमणि की भरपूर सेवा ले रहे हैं। नागमणि को कुशवाहा बहुल इलाकों में लगाया गया है। उन्होंने अब तक मोतिहारी सदर विधानसभा और केसरिया विधानसभा क्षेत्र में कार्यक्रम कर चुके हैं.बीजेपी इस प्रयास में है कि नागमणि से कुशवाहा बहुत इलाकों में चुनाव प्रचार करा कर कुशवाहा वोटरों को महागठबंधन की तरफ जाने से बचाया जाए।

बता दें कि नागमणि ने पिछले दिनों ही उपेन्द्र कुशवाहा को छोड़कर जेडीयू का दामन थामा है। नागमणि अब एनडीए प्रत्य़ाशी के प्रचार में जोर-शोर से जुटे है। 

विवेकानंद की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News