भाजपा प्रवक्ता की हालत गंभीर, कनपटी में फंसी गोली, बेटे ने चार लोगों पर जताया शक

भाजपा प्रवक्ता की हालत गंभीर, कनपटी में फंसी गोली,  बेटे ने चार लोगों पर जताया शक

पटना। मुंगेर में बुधवार को दिनदहाड़े भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अजफर शम्शी को घात लगाए अपराधियों ने गोली मार दी। वारदात जमालपुर कॉलेज कैंपस में हुई। 59 साल के अजफर शम्शी जमालपुर कॉलेज के प्रोफेसर भी हैं। अपराधियों ने उन्हें टारगेट करते हुए फायरिंग की जिसमें एक गोली दाईं कनपटी में लगने के बाद फंस गई है। गंभीर हालत में उन्हें पहले सदर हॉस्पिटल ले जाया गया। वहां CT स्कैन कराने के बाद पटना रेफर कर दिया गया। देर शाम पटना पहुंचे अजफर शम्शी को पारस अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यहां गोली निकालने के लिए ऑपरेशन होगा।

पिता के साथ पटना पहुंचे बेटे असद शम्शी के अनुसार उनके पिता पर लगातार जान का खतरा बना हुआ था। जमालपुर कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य ललन प्रसाद सिंह से उनका विवाद चल रहा था। ITC वर्कर्स यूनियन के अध्यक्ष पद को लेकर तो झंझट था ही। फोन पर जान से मारने की धमकियां मिलती रहती थीं। इस संबंध में उनके पिता ने FIR भी दर्ज करवाई थी। आज हुए हमले को लेकर उन्हें अपने बड़े चाचा समेत कुल 4 लोगों पर शक है। असद के अनुसार   अफजर शम्शी का अपने बड़े भाई आकिब अख्तर नजवी से 20 साल से झगड़ा चल रहा है। वे अब कोलकाता में रहते हैं। हाल में भी मुंगेर आये थे, 3-4 दिन रहकर वापस गए हैं। इनसे प्रोपर्टी के साथ-साथ पर्सनल विवाद है। लाल दरवाजा के रहने वाले राजकिशोर पर केस है। उसने गोली चलवाई थी। वो भी दुश्मन बन गया है।  अजय कुमार कॉलेज में नाइट गार्ड है। बगल के एक आदमी से ड्यूटी कराता है लेकिन पेमेंट खुद लेता है। पिता ने एकबार सैलरी पर साइन करने से मना कर दिया था तो उसने हंगामा कर देख लेने की धमकी दी थी।

भाजपा में कानून व्यवस्था को लेकर चिंता

अब तक विपक्ष ही राज्य के कानून व्यवस्था को लेकर सवाल उठाते रहे हैं, वहीं अब सत्ता नें बैठी भाजपा भी राज्य में अपराधिक घटनाओं को लेकर चिंता जाहिर की है। हालांकि अब भी कोई खुलकर बोलने से परहेज कर रहा है और नीतीश सरकार पर भरोसे की बात कहते नजर आ रहे हैं. लेकिन अजफर शम्शी के साथ हुए घटना के बाद अब अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए कड़े कदम उठाने की मांग तेज हो गई है। 


 

Find Us on Facebook

Trending News