बेल जेल और शराब का काला खेल : शॉर्टकर्ट से पैसे कमाने की लालच ने छात्र को पहुंचाया हवालात

बेल जेल और शराब का काला खेल : शॉर्टकर्ट से पैसे कमाने की लालच ने छात्र को पहुंचाया हवालात

PATNA : नाम पवन कुमार 24 वर्षीय युवक पढ़ाई करने पटना आया था। पर शार्ट कट तरीके से रुपये कमाने की चाहत ने छात्र को शराब के काले खेल ने इस कदर अपने जाल में ले लिया कि वो शराबबंदी वाले कानून को ताख पर रख शराब की तस्करी करने लगा। शार्टकर्ट से पैसे कमाने की लालच में वह यह भूल गया कि एक न एक दिन पाप का घड़ा जरुर फूटता है। ऐसा इस युवक के साथ हुआ, शराब बेचने के मामले में न सिर्फ उसे जेल की सैर करनी पड़ी है। बल्कि अब शराब बेचकर उसने जो पैसे कमाए हैं, उसे भी सीज कर दिया गया है।

 मामला पटना के पत्रकार नगर थाना क्षेत्र के चित्रगुप्त नगर इलाके में किराए के मकान में रहने वाले पवन कुमार नामक छात्र का है जो पढ़ाई करते करते शराब के इस काले खेल की दलदल में जा घुसा पुलिस की माने तो पवन तीन वर्ष पहले पटना के पत्रकारनगर थाना क्षेत्र के चित्रगुप्त नगर में पढ़ाई करने आया था और अधिक रुपये कमाने के लालच में आकर शराब की तस्करी में जुट गया ।पुलिस की पूछताछ में पकड़ में आये तस्कर पवन कुमार ने बताया कि बीते एक वर्ष में जो भी उसने शराब की तस्करी कर काली कमाई की है उसका कुछ कुछ भाग अपने दो बैंक अकाउंट में जमा कर रखा है।दरअसल पवन ने पुलिस को बताया कि SBI के खाते में 84 हजार के लगभग की रकम और PNB में लगभग 5 लाख 32 हजार से ऊपर के अवैध कमाई को अर्जित किया है। फिलहाल पुलिस ने पवन कुमार के दोनों बैंक अकाउंट को फ्रिज कर दिया है। वहीं आगे की कार्रवाई में जुट गई है।

 दरअसल सोंचने वाली बात ये है कि आखिर क्यों शराब बंदी में तस्कर सक्रिय रहते है। जेल जाने से भी जिन्हें डर नही लगता है। अवैध सम्पति शराब तस्करी से ।बैंक खातों में मोटी रकम दिखती है। बावजूद इसके कानूनी कार्यवाही होने पर पुनः जेल से बाहर आ जाते है सजा के नाम पर कुछ दिन शांत रहते है और फिर शराबबंदी कानून को धत्ता बताकर अपने काले कारोबार में लग जाते है ।

Find Us on Facebook

Trending News