समस्तीपुर में हुआ खूनी खेल : उपमुखिया ने किसान की गोली मारकर की हत्या, आक्रोशित लोगों ने आरोपी की पत्नी और बेटे की ले ली जान

समस्तीपुर में हुआ खूनी खेल : उपमुखिया ने किसान की गोली मारकर की हत्या, आक्रोशित लोगों ने आरोपी की पत्नी और बेटे की ले ली जान

SAMASTIPUR : जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के आधारपुर गांव में दो गुटों के बीच हुए खूनी खेल में तीन लोगों की मौत हो गई। मरनेवालों में एक गांव का जमींदार, एक महिला और उसका बेटा शामिल है। हत्या की घटना सामने आने के बाद गांव में तनाव की स्थिति है। जिसके बाद खुद जिले के डीएम, एसपी सहित बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच कर कैंप कर रहे हैं। 

गांव में हुए इस खूनी खेल को लेकर बताया गया कि यहां के उपमुखिया हसनैन खान का पानी बहाने को लेकर गांव के किसान श्रवण कुमार से विवाद हो गया। यह विवाद इतना बढ़ गया कि उप मुखिया ने किसान पर गोली चला दी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। गांव में उप मुखिया द्वारा की गई हत्या को लेकर ग्रामीणों ने पुलिस को सूचित किया, लेकिन पुलिस ने इसे दबाने की कोशिश शुरू कर दी और समय पर गांव नहीं पहुंचे। जिससे ग्रामीण आक्रोशित हो गए और खुद ही आरोपी को सबक सिखाने के उद्देश्य से उसके घर पर हमला कर दिया। इस दौरान खुद उप मुखिया अपनी जान बचाने में कामयाब रहा, लेकिन उसका पूरा परिवार भीड़ के हत्थे चढ़ गया। इनमें आरोपी की पत्नी, बेटा और बेटी शामिल थे।

आक्रोशित भीड़ ने न सिर्फ उनकी बेरहमी से पिटाई की, बल्कि घर में खड़ी कार, सहित उपमुखिया के घर में जमकर तोड़फोड़ भी की। इस दौरान भीड़ के हमले से बुरी तरह घायल होने के बाद आरोपी के दोनों बच्चे पुलिस के पास पहुंचे, जहां से उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन पिटाई में चोट अधिक लगने के कारण उप मुखिया के बेटे ने दम तोड़ दिया, वहीं बेटी की हालत भी गंभीर बताई जा रही है।

पत्नी की डूबने से हो गई मौत

वहीं दूसरी तरफ आक्रोशित ग्रामीणी की पिटाई से बचकर भाग रही उप मुखिया की पत्नी पानी से भरे गड्ढे में डूब गई, जिसके कारण उसकी मौत हो गई ।

अब गांव में तनाव का माहौल

मामूली विवाद में तीन लोगों की हत्या के बाद अब पूरे इलाके में तनाव की स्थिति है। खुद डीएम पूरी स्थिति को नियंत्रित करने करने के लिए गांव में कैंप कर रहे हैं। साथ ही गांव में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। वहीं दूसरी तरफ कुछ असमाजिक तत्व इस पूरी घटना को अब धार्मिक ऐंगल देने की कोशिश में जुटे हैं. हालांकि प्रशासन की तरफ से इसे किसी धार्मिक एंगल होने की बात से इनकार किया है। 

Find Us on Facebook

Trending News