BOLLYWOOD MASALA: उम्र के 37वें पड़ाव पर जश्न में डूबा वह सितारा, जिसने बहुमुखी प्रतिभा से हासिल किया अलग मुकाम

BOLLYWOOD MASALA: उम्र के 37वें पड़ाव पर जश्न में डूबा वह सितारा, जिसने बहुमुखी प्रतिभा से हासिल किया अलग मुकाम

N4N DESK: अपने करियर की शुरूआत में ही रिस्क लेकर विकी डोनर सरीखी फिल्म करने वाले आयुष्मान का आज 37वां जन्मदिन है. उनका जन्म 14 सितम्बर 1984 को चंडीगढ़ में हुआ था. फिल्म इंडस्ट्री में अभिनेता आयुष्मान ने अपनी अलग पहचान बनाई है, आयुष्मान लीक से हटकर फिल्मों के लिए जाने जाते हैं.

यह बात तो सभी को पता होगी कि बॉलीवुड में कदम रखने के पहले आयुष्मान विडियो जॉकी थे. इस खास अवसर पर उनकी पत्नी ताहिरा कश्यप ने जन्मदिन की बधाई दी और पुरानी तस्वीर साझा करते हुए कहा कि ‘हम 19 साल के थे मुझे तुम अपनी फ्रेम बाइक, मैचिंग स्वेटर और मफलर के साथ काफी कूल लगे. मैं उस वक्त तुम पर अपना दिल हार गई जब तुमने मेरे लिए गिटार के साथ गाना गाया. कला के प्रति तुम्हारा लगाव देखकर मैं हमेशा इंस्पायर्ड रही. वो चीजें आज भी आपके पास हैं. इतने सालों के बाद भी तुम्हारी वो मासूमियत और जिंदगी एवं काम के प्रति उत्साह वैसा ही बना रहता है.’ 

उन्हें फिल्म विक्की डोनर से काफी सफलता मिली और धीरे-धीरे वो अलग तरह के अभिनय के लिए पहचाने जाने लगे. आयुष्मान खुराना ने साल 2012 में ऐसी फिल्म से डेब्यू किया था जिसे करने से कोई भी अभिनेता आराम से नकार कर सकता था. फिल्म विक्की डोनर में वह स्पर्म डोनर बने और यह फिल्म काफी हिट रही और लोगों ने उनके अभिनय को जाना. इसके साथ ही बता दें कि आयुष्मान का नाम भारत के सबसे ज्यादा पैसे लेने वाले अभिनेताओं में शामिल है. आयुष्मान खुराना को साल 2020 में टाइम मैगज़ीन ने दुनिया के 100 प्रभावित करने वाले शख्सियतों की श्रेणी में रखा था. बता दें कि ‘शुभ मंगल सावधान’ में आयुष्मान खुराना ऐसे शख्स कि भूमिका में थे जिन्हें जेंट्स प्रॉब्लम होती है। फिल्म अंधाधुन भी काफी शानदार साबित रही। इस फिल्म में वो एक पियानो प्लेयर बने हैं, जो नेत्रहीन होने का नाटक कर रहा होता है। आयुष्मान खुराना को इस फिल्म के लिए नेशनल अवार्ड भी मिला है।

फिल्म ड्रीम गर्ल में आयुष्मान लड़कियों की आवाज़ निकालते हैं और पुरुष किरदारों को रिझाने कि कोशिश करते हैं. फिल्म ‘बाला’ साल 2019 में आई थी जिसमें आयुष्मान ने गंजेपन से जूझ रहे व्यक्ति का किरदार अदा किया था। इस फिल्म में पुरुषों में गंजेपन और लड़कियों के काले रंग को समाज कि छोटी सोच को दर्शाया गया था और उस पर निशाना साधा गया। साल 2019 में फिल्म आर्टिकल 15 में आयुष्मान ने एक पुलिस अफसर का किरदार निभाया था. पिछले साल 2020 में रिलीज़ हुई फिल्म शुभ मंगल ज्यादा सावधान में आयुष्मान खुराना ने समलैंगिक युवक का रोल किया था. इस फिल्म में यह समझाने कि कोशिश की गयी की समलैंगिक होना एक प्राकृतिक समस्या हैं. समाज को इसे लेकर अपनी सोच में बदलाव करना चाहिए. उनकी आने वाली फिल्म 'डॉक्टर जी' की बात करें, तो यह भी लीक से हटकर है. इसमें खुराना ने स्त्री रोग विशेषज्ञ का किरदार अदा किया है। अब एक पुरूष, जो स्त्री रोग विशेषज्ञ हो, तो कहानी क्या-क्या रंग लेगी, यह देखना लाजिमी होगा।


Find Us on Facebook

Trending News