यूपी में दोनों CM पद के दावेदार पहली बार लड़ेंगे विधानसभा का चुनाव, BJP के बाद SP का भी प्रत्याशी जारी

यूपी में दोनों CM पद के दावेदार पहली बार लड़ेंगे विधानसभा का चुनाव, BJP के बाद SP का भी प्रत्याशी जारी

UP Desk. समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश सिंह यादव सपा की परंपरागत सीट मैनपुरी की करहल से विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे. वह पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ने जा रहे हैं. करहल में समाजवादी पार्टी को 2007 से हार का मुंह नहीं देखना पड़ा है. ऐसे में यह सपा की सबसे सेफ सीट मानी जाती है. वहीं इस बार योगी आदित्यनाथ भी पहली बार विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे. इसकी घोषणा भाजपा ने पहले ही कर दी है. ऐसे में पहली बार यूपी में दोनों सीएम पद के उम्मीदवार विधानसभा का चुनाव लड़ रहे हैं.

करहल विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी (सपा) का सात बार कब्जा रहा है. इस विधासभा सीट से 1985 में दलित मजदूर किसान पार्टी के बाबूराम यादव, 1989 और 1991 में समाजवादी जनता पार्टी (सजपा) और 1993, 1996 में सपा के टिकट पर बाबूराम यादव विधायक निर्वाचित हुए. 2000 के उपचुनाव में सपा के अनिल यादव, 2002 में बीजेपी और 2007, 2012 और 2017 में सपा के टिकट पर सोवरन सिंह यादव विधायक चुने गए.

पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव का इस सीट से करीबी जुड़ाव रहा है. मुलायम सिंह यादव ने करहल के जैन इंटर कॉलेज से ही शिक्षा ग्रहण की थी और वे यहां पर शिक्षक भी रहे. करहल मुलायम सिंह यादव के गांव सैफई से महज चार किलोमीटर की दूरी पर है.

योगी भी पहली बार लड़ेंगे विधानसभा का चुनाव

वहीं योगी आदित्यनाथ गोरखपुर की सदर सीट से चुनाव लड़ेंगे. योगी आदित्यनाथ भी पहली बार विधानसभा का चुनाव लड़ने जा रहे हैं. वो 2017 में मुख्यमंत्री बनने से पहले तक लोकसभा के सदस्य थे. योगी 1998 में पहली बार गोरखपुर से लोकसभा सांसद चुने गए. वो लगातार 5 बार से गोरखपुर से लोकसभा का चुनाव जीते, लेकिन मुख्यमंत्री बनने के बाद उन्होंने विधानपरिषद की राह चुनी.

Find Us on Facebook

Trending News