शादी के रिश्ते को बचाने के लिए जुटा था लड़का-लड़की का परिवार, शांति से बातचीत की जगह शुरू हो गया खूनी संघर्ष

शादी के रिश्ते को बचाने के लिए जुटा था लड़का-लड़की का परिवार, शांति से बातचीत की जगह शुरू हो गया खूनी संघर्ष

AURANGABAD : दुल्हन दिल की धड़कन और दो आशियाने का प्यार होती है। वही दुल्हन अगर अपनी रिश्तों को भूल जाये तो दोनों घरों के लिए कटार होती है। आज कुछ ऐसे ही घटना औरंगाबाद के मदनपुर मे देखने को मिली, जहां दो परिवारों को बीच दो साल से चल रहे विवाद ने खूनी संघर्ष का रूप ले लिया। इस मारपीट में आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए।  

इस पूरे विवाद की जड़ में एक शादी बताई जा रही है। जब गोह थाना क्षेत्र निवासी हसनैन खलीफा अपनी बच्ची की सादी तकरीबन दो साल पूर्व अपनी बच्ची की शादी मदनपुर निवासी समीम आलम के पुत्र सुलेमान से की थी। शादी के बाद 15 दिन ससुराल में गुजारने के बाद युवती अपने मायके वापस लौटी और अपने शौहर को पागल होने का आरोप लगा दिया। जिसके बाद दोनों परिवार के बीच रिश्तों में खटास बढ़ने लगा।  लड़की के पिता इस सम्बंध को तोड़ना चाहते थे। जिसको लेकर दो परिवार के बीच विवाद उत्पन्न हो गया। यह विवाद दो साल तक ऐसे ही बना रहा। रविवार को  दोनों पक्ष के रिश्तेदार इस विवाद को सुलझाने के लिए मदनपुर में जुटे हुए थे और बातचीत चल रही थी।

बैठक में चलने लगी लाठियां

दोनों परिवार के लोग शांति से समझौता कराने के लिए जुटे थे, लेकिन यहां शांति की जगह गाली गलौज और लाठियों ने ले ली। देखते ही देखते खूनी संघर्ष का रूप ले लिया जिसमे जमकर लाठी डंडे चलने लगे। इस मारपीट में आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गये।  ग्रामीणों के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हुआ और सभी घायलों को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र मदनपुर लाया गया। जहां दो की हालत को गम्भीर देखे हुए बाहर रेफर कर दिया गया है। वहीं और सभी का इलाज प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में किया जा रहा है।

एक दूसरे पर लगा रहे आरोप

मारपीट की घटना के बाद पीड़ित लड़की ने बताया की समझौता के लिए हम सभी लोगों को मदनपुर बुलाया गया। हम लोग अपने 10 परिजनों के साथ पहुंचे। युवती ने आरोप लगाया कि लड़के के परिजन मारपीट करने के लिए प्लानिंग किए हुए थे, हमारे पहुंचते ही उनलोगों ने मारपीट शुरू कर दी। युवती ने बताया कि इस मारपीट में हमारे पिता और भाई सहित अन्य लोग जख्मी हो गए है। 

वहीं जख्मी हुए लड़का के पिता ने कहा लड़की पक्ष के द्वारा मेरा बेटा पर गलत इल्जाम लगा रहा है कि पागल है जबकि ऐसा बात नहीं है जो आज लड़की के पिता और उनके परिजन आकर हमलोगों के साथ मारपीट किया गया है। 

यह लोग हुए घायल

लड़की पक्ष से गोह निवासी हसनैन खलीफा और उनके पुत्र अरमान आलम तथा दामाद झारखंड के पलामू  निवासी शगीर अहमद व खुदवा थाना क्षेत्र के कलेन निवासी मोहमद फिरोज शामिल है।  वहीं लड़का के पक्ष से मदनपुर निवासी शमीम आलम और उनके पुत्र सलमान आलम तथा गोह थाना क्षेत्र के डिहरी निवासी सोनू कली शामिल हैं।

डीएन मौआर की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News