ब्रांड प्रोटेक्शन प्राइवेट लि. कंपनी का खेल, छापेमारी के नाम विशेष थाना क्षेत्र को करता है टारगेट

ब्रांड प्रोटेक्शन प्राइवेट लि. कंपनी का खेल, छापेमारी के नाम विशेष थाना क्षेत्र को करता है टारगेट

PATNA : राजधानी पटना में ब्रांड प्रोटेक्शन प्राइवेट नामक एक संस्था संचालित है। यह संस्था अपने आपको को कंपिनयों द्वारा मान्यता प्राप्त बताती है। इसका कहना है कि देश की कई बड़ी कंपनियों द्वारा नकली माल पकड़ने या उसकी सूचना कंपनी को देने का काम सौंपा गया है। 

पटना में इनदिनों नकली सामान बनाने य़ा बेचने वालों के उपर कानूनी शिकंजा भी कसा है। पुलिस ने कई जगहों और दुकानों में छापेमारी कर नकली सामान बनाने या बेचने का खुलासा भी किया है। 

इन सब के बीच सबसे बड़ी बात यह है कि जितनी भी बार इसका खुलासा हुआ है। उसमें एक बात गौर करने वाली है जिस भी थाना क्षेत्र में इसका खुलासा हुआ है वहां के थानेदार अरविंद है। इनका स्थानांतरण जब-जब जिस क्षेत्र में हुई है। खासकर उसी थाना क्षेत्र से नकली सामान का उत्पादन या बिक्री का मामला सामने आया है। 

ऐसे में सवाल यह पैदा होता है कि आखिर ऐसी कौन सी वजह है कि इंस्पेक्टर अरविंद जिस थाना क्षेत्र के थानेदार बनते है वहीं से ऐसी बात सामने आती है। कहीं इसमें उक्त कंपनी की मिली भगत का खेल तो नहीं है। 

कुंदन की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News