अब ब्रांडेड शराब की भी शुरू हो गई तस्करी, कोतवाली थाने में पहली बार पकड़ी गई खेप

अब ब्रांडेड शराब की भी शुरू हो गई तस्करी, कोतवाली थाने में पहली बार पकड़ी गई खेप

गया। अत्याधिक महंगी बेशकीमती शराब के शौकीन के गिरेबान तक अब गया पुलिस  की  पहुंच  की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है। महंगी शराब की शौक रखने वाले शौकीनों  तक जल्द ही  गया की कोतवाली पुलिस की लंबी हाथ उनके गिरेबान तक  पहुंच सकती है। बिहार के गया से पहली बार पुलिस ने अत्याधिक महंगी शराब बेचने वालों के गिरेबान पर शिकंजा कसा है। ब्लैक डॉग,ग्रीन लेबल , रेड लेबल  , ग्रीनविच सहित हंड्रेड पाइपर , शिवास रीगल , ब्लेंडर और सिग्नेचर जैसे बेशकीमती शराब की बड़ी खेप गया की कोतवाली पुलिस ने बरामद की है। साथ ही शराब के तीन सौदागरों को भी पुलिस ने धर दबोचा है। 

महंगी शराब की यह खेप गया के कोतवाली थाना क्षेत्र के व्यवसाय मंडी पुरानी गोदाम और केपी रोड इलाके से बरामद किया गया है। शराब के सौदागरों में शामिल कोतवाली थाना क्षेत्र के रहने वाले मोहम्मद जीशान , अमित कुमार और मुकेश कुमार को पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर रेकी कर गिरफ्तार किया है। कोतवाली थाना प्रभारी रामाकांत तिवारी ने स्वयं शराब के खरीदार बनकर रैकेट का खुलासा किया है। गिरफ्तार तीनों शराब के सौदागरों को जेल भेज दिया गया है।

कोतवाली थाना प्रभारी रमाकांत तिवारी ने बताया कि शराब कारोबारियों के पास से बरामद मोबाइल के आधार पर इतनी महंगी शराब के खरीदारों और तस्करों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी और तलाशी शुरू कर दी गई है। थाना प्रभारी श्री तिवारी ने बताया कि तीनों गिरफ्तार शराब के तस्कर सन दो हजार अट्ठारह से इस धंधे में अपनी  संलिप्तता स्वीकार की है। थाना प्रभारी ने बताया कि जल्द ही शराब के इतने बड़े नेटवर्क को चलाने वाले शराब तस्करों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।


Find Us on Facebook

Trending News